हेमंत करकरे पर टिप्पणी को लेकर निर्वाचन अधिकारी ने प्रज्ञा को भेजा नोटिस, देना होगा जवाब

New Delhi: शहीद हेमंत करकरे पर दिए गए विवादित बयान की वजह से साध्वी प्रज्ञा (Sadhvi pragya) आलोचनाओं का शिकार हो रही हैं। लगातार हो रही आलोचनाओं के बीच वह अपना दुखड़ा और आपबीती भी बता रही हैं। इसी बीच अब डिस्ट्रिक्ट चुनाव अधिकारी (Election Officer) ने प्रज्ञा को शहीद का अपमान करने को लेकर नोटिस भेजा है। प्रज्ञा को अब अपने बयान को लेकर सफाई देनी होगी कि, उन्होंने एक जवान के लिए बेहद गलत शब्दों का इस्तेमाल क्यों किया है।

हाल ही में चुनाव आयोग (Election Commission) ने प्रज्ञा की उम्मीदवारी निरस्त किये जाने की मांग को लेकर संज्ञान लिया था। आयोग ने कहा था कि, प्रज्ञा पर अभी कोई फैसला नहीं लिया जा सकता है।

निर्वाचन अधिकारी ने भेजा नोटिस

भोपाल से भाजपा का उम्मीदवार बनाये जाने के बाद से पराया ठाकुर कड़ी आलोचनाओं से घिरी हुई हैं। इसी बीच अब चुनाव अधिकारी ने प्रज्ञा को विवादित बयान देने के चलते नोटिस भेजा है। प्रज्ञा को नोटिस भेज विवादित बयान पर सफाई देने के साथ ही यह बताने को कहा है कि, एक शहीद जवान के लिए उन्होंने इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल क्यों किया है।

सचिन पायलट ने प्रज्ञा को माफ़ नहीं किया जाना चाहिए

भोपाल से भाजपा की उम्मीदवार बनाई गई प्रज्ञा ठाकुर अपने विवादित बयान की वजह से आलोचनाओं का शिकार हो रही हैं। वहीं इस बयान को लेकर पार्टी की किरकरी भी हो रही है। लेकिन भाजपा भोपाल में ध्रुवीकरण कर वोट साधने में लगी हुई है। लेकिन कांग्रेस लगातार ऐसे बयान से जवानों का अपमान करने का आरोप लगा रही है। इस कड़ी में अब सचिन पायलट ने गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि, प्रज्ञा को ऐसे बयान के लिए माफ़ नहीं किया जाना चाहिए।