रवि शास्त्री : धोनी की इंटरनेशनल वापसी में लग सकता है वक्त, IPL में बिखेरेंगे अपने हुनर का जादू

New Delhi : क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने के लिए सबसे फेवरेट टीम भारत ही थी। सब भारत के पक्ष में ही था, जब तक कीवियों ने भारत को अपनी गेंदबाजी से ध्वस्त नहीं किया था। भारत का सेमी फाइनल में हार जाना बहुत ही दर्दनाक था।

क्या ऋषभ पंत ले पाएंगे धोनी की जगह…

चीजें और बिगड़ सकती थीं। टीम अपना हौंसला हार चुकी थी। कहते हैं न कि एक गुरू के बिना कोई भी जीत जीत नहीं होती और कोई हार हार नहीं होती। रवि शास्त्री अपने खिलाड़ियों के साथ हमेशा खड़े रहे। वो खिलाड़ियों की पीठ थपथपा उनका हौंसला बढ़ाते हैं। टीम लेजेंडरी 1970 और 1980 के दशक की वेस्ट इंडीज है।

बांग्लादेश को व्हाइटवॉश करने के बाद शास्त्री ने कहा कि टीम वर्ल्ड की शीर्ष टीम बन गई है। टीम में नए टैलेंट्स को जगह दी जा रही है। कोई कैसे ऋषभ पंत को इग्नोर कर सकता है। उनमें धोनी का सा पैशन नजर आता है।

पहले जो हुआ उसे बदला नहीं जा सकता है। आगे आने वाला पड़ाव टी20 वर्ल्ड कप है। उसे जीतकर ही विराट उनकी कप्तानी पर उठाए गए सवालों का जवाब दे पाएंगे। फिलहाल सबका यही सवाल है कि क्या धोनी वर्ल्ड कप में होंगे? ऐसे में शास्त्री का कहना है कि इतनी जल्दी भी क्या है अभी IPL बाकि है। वहां पर भी बहुत से लोग विकेट कीपिंग करेंगे। वहां पर खिलाड़ी की परफोर्मेंस ही वर्ल्ड कप में उनका भविष्य निर्धारित करेगी। टीम में जगह परफोर्मेंस को देखकर दी जाती है।