दिल्ली हिं’सा : बुर्का पहन पुलिस पर हमला करने वाली महिलाओं की पहचान हुई, गिर’फ्तार होंगी

New Delhi : दिल्ली हिंसा मामले में पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है. चाँद बाग इलाके में हेड कॉन्स्टेबल रत्न लाल मर्ड केस, DCP Amit Sharma और ACP Anuj Kumar पर हमले में शामिल 6 महिलाओं की SIT ने पहचान की है. अब इन महिलाओं कोजल्द ही हिरासत में लेकर की पूछताछ की जाएगी, पूछताछ के बाद इनकी गिरफ्तारी भी संभव है.

खबर है कि एसआईटी को महिलाओं के खिलाफ अहम सबूत हाथ लगे हैं जिसको लेकर महिलाओं के ठिकानों पर छापे मारे जा रहे हैं. 70 से 80 महिलाए चांद बाग इलाके में घटना के वक्त मौजूद दिखी हैं. जिसमे ज्यादातर महिलाओं ने पुलिस टीम पर हमला किया था.

अधिकतर महिलाओं ने बुर्के पहन रखे थे. इसलिए उन्हें पकड़ना पुलिस के लिए मुश्किल हो रहा है. पर मौके से मिले वीडियो फुटेज औरसर्विलांस के जरिए 6 महिलाओं की पहचान कर ली गई है. जिनको लेकर पुलिस जल्द खुलासा कर सकती है.

उत्तर पूर्वी दिल्ली में 24 फरवरी को हुई हिंसा में डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा को पत्थरबाजी के दौरान चोट आई थी. उन्हें मैक्सअस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उनकी हालत गंभीर बनी रही

डीसीपी शहादरा अपनी फोर्स के साथ नार्थ ईस्ट जिले के दयालपुर थाना इलाके के चांद बाग में डयूटी पर मौजूद थे. तभी उन पर हमलाकिया गया और उनकी गाड़ी में आग लगाई गई. इस पथराव में डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा को पत्थर लगे जिसके बाद उन्हें दूसरीसरकारी गाड़ी से मैक्स अस्पताल ले जाया गया. जहां उनकी न्यूरो सर्जरी भी की गई. उनके ब्रेन में क्लोटिंग हो गई थी

उसी वक्त मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स ने अपने वायरलैस सेट से पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी दी, ‘डीसीपी की गाड़ी में चांद बागमजार के पास आग लगा दी गई है.’ इस दिन हुई हिंसा में एसीपी अनुज कुमार भी हिंसा का शिकार हुए. उन्हें भी गंभीर चोट आई थी. इसीदिन हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल भी दंगाइयों को शांत करवाने की कोशिश में शहीद हो गए थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + four =