दिल्ली हाई कोर्ट के जज वाल्मीकि मेहता का निध’न, कार्डियक अरेस्ट से हुई मौ’त

New Delhi: दिल्ली हाई कोर्ट से एक दुखद खबर आ रही है और बताया जा रहा है कि, जस्टिस वाल्मीकि मेहता का आज निध’न हो गया। बताया जा रहा है कि, उनकी मौ’त कार्डियक अरेस्ट यानी दिल का दौरा पड़ने से हुई है।

आज दिल्ली हाई कोर्ट के एक जस्टिस से जुडी दुखद खबर सामने आई और उनका दिल का दौरा पड़ने से मौ’त हो गई। आपको बता दें कि, जस्टिस वाल्मीकि का जन्म 6 जून 1959 को मुंबई में हुआ था। उन्होंने बीकॉम ऑनर्स में दिल्ली यूनिवर्सिटी के श्री वेंकटेश्वरा कॉलेज से ग्रैजुएशन किया था। उन्होंने एलएलबी की डिग्री डीयू के ही लॉ कैंपस सेंटर से ली थी। उन्होंने अपने वकालत की शुरुआत 1982 में की थी। 22 सितंबर 2001 में 42 साल की उम्र में वह वरिष्ठ वकील बने। एक खास बात ये है कि जस्टिस मेहता का चीफ जस्टिस रंजन गोगोई से घरेलू रिश्ता है। बताया जाता है कि, जस्टिस वाल्मीकि काफी अच्छे व्यक्तित्व के इंसान थे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, जस्टिस मेहता के बेटे की शादी चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की बेटी के साथ हुई है।