दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल का बयान, नोटबंदी कर PM मोदी ने अर्थव्यवस्था को दिए ‘गहरे घाव’

New Delhi: दो साल पहले आज ही के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का ऐलान किया था। 8 नवंबर 2016 की शाम 500 और 1,000 रुपये के नोट रात 12 बजे से अवैध होने का फैसला पीएम मोदी ने सुनाया था। पीएम की इस घोषणा से लोगों में अफरा-तफरी मच गई थी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई ने 500 रुपये के नए नोट सर्कुलेशन में लाए, लेकिन 1,000 रुपये को पूरी तरह खत्म कर दिया गया और 2,000 रुपये के नए नोट आ गए।

दो साल पूरे होने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने नोटबंदी को देश की अर्थव्यवस्था के लिए ‘गहरा आघात’ करार दिया। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मोदी सरकार के वित्तीय घोटालों की सूची अंतहीन है, नोटबंदी भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए गहरे घाव की तरह है। दो साल पूरा होने के बाद भी यह रहस्य बना हुआ है कि देश को इस आपदा में क्यों धकेला गया था।

वहीं कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि आज के ही दिन दो साल पहले, प्रधानमंत्री ने गलत और असंवेदनशील फैसला लिया था। इसके बाद देश में जो भी हुआ, उस सबकी जिम्मेदारी प्रधानमंत्री को लेनी चाहिए। आनंद शर्मा ने कहा जर्मनी जैसे देश में 80 प्रतिशत कैश चलता है। सरकार ने जो बातें कही थीं, सभी गलत साबित हुईं। मेरा पीएम मोदी से सीधा प्रश्न है, किया क्या वह आज भी गलती मानकर माफी मांगने के लिए तैयार हैं।

कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी ने लोगों के मेहनत के पैसे को कालाधन कहा था। क्या कोई अपराधी घोषणा करके अपने अकाउंट में पैसे डालता है? इस गलत फैसले के बाद कई आतंकवादी हमले हुए और 2000 रुपये के नए नोट मिले। वहीं बचाव कते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली का बयान सामने आया। अरूण जेटली ने कहा कि नोटबंदी अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए सरकार की तरफ से उठाया गया महत्वपूर्ण कदम था। सरकार ने पहले भारत से बाहर कालेधन पर शिकंजा कसा।

The post दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल का बयान, नोटबंदी कर PM मोदी ने अर्थव्यवस्था को दिए ‘गहरे घाव’ appeared first on Live Desh.