कोटा के अस्पताल में एक महीने में 100 बच्चों की मौ’त, मायावती ने साधा कांग्रेस पर नि’शाना

New Delhi : राजस्थान के कोटा से बड़े चौंकाने वाली रिपोर्ट आ रही है। यहां के जेके लोन अस्पताल में सिर्फ दिसंबर महीने में ही मरने वाले की संख्या बढ़कर 100 हो गई है। इतनी बड़ी तादाद में बच्चों की मौ’त पर अब सियासत भी शुरू हो गई है।

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने अस्पताल में इतनी बड़ी संख्या में सिर्फ एक महीने के अंदर मौ’त को लेकर कांग्रेस पार्टी पर बड़ा हमला किया है। बीएसपी अध्यक्ष ने गुरूवार की सुबह ट्वीट करते हुए कहा कि कांग्रेस शासित प्रदेश राजस्थान के कोटा जिले में 100 बच्चों की मौ’त की खबर बेहद दर्दनाक और निंदनीय है। ये वहां की अशोक गहलोत के खुद की और उनकी सरकार की उदासीनता, अवंसेदनशीलता और गैर-जिम्मेदाराना रवैया को जाहिर करता है।

इसके साथ ही, मायावती ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का बिना नाम लिए उन पर भी नि’शाना साधा है। मायावती ने कहा कि यूपी के पीड़ित परिवारों से मिलने की तरह ही उन्हें राजस्थान में जाकर उन बच्चों की माताओं से भी मिलना चाहिए, जिनकी गोद अब सुनी हो चुकी है।

गौरतलब है कि राजस्थान के कोटा जिले के जेके लोन अस्पताल में दिसंबर के अंतिम दो दिन में कम से कम 8 और शिशुओं की मौ’त हो गई। इसके साथ ही इस महीने अस्पताल में मरने वाले शिशुओं की संख्या 100 हो गई है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

पिछले 23-24 दिसंबर को 48 घंटे के भीतर अस्पताल में 10 शिशुओं की मौ’त को लेकर काफी हंगामा हुआ था। हालांकि, अस्पताल के अधिकारियों ने कहा था कि यहां 2018 में 1,005 शिशुओं की मौ’त हुई थी और 2019 में उससे कम मौ’तें हुई हैं।