रजत शर्मा ने दिया DDCA के अध्यक्ष पद से इस्तीफ़ा..कहा – ईमानदारी से कभी भी समझौता नहीं कर सकता

New Delhi : पत्रकार और दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के अध्यक्ष रजत शर्मा ने अपने पद से तत्काल प्रभाव से इस्तीफ़ा दे दिया है। इस खबर की जानकारी DDCA ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर दी है। जिसमें लिखा है कि “रजत शर्मा ने डीडीसीए के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। डीडीसीए ने तत्काल प्रभाव से इसे सर्वोच्च परिषद को भेज दिया है।” खबर है कि मशहूर पत्रकार रजत शर्मा के खिलाफ दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन यानी डीडीसीए के बाकी निदेशकों ने प्रस्ताव पास करके उनकी शक्तियां छीन ली थीं। ऐसे में उनका काम ज्यादा रह नहीं गया था।

अपने इस्तीफे पर रजत शर्मा ने समाचार एजेंसी ANI से कहा कि “ऐसा लगता है कि डीडीसीए में ईमानदारी और पारदर्शिता के सिद्धांतों के साथ चलना संभव नहीं है, जिससे मैं कोई भी कीमत पर समझौता करने के लिए तैयार नहीं हूं। मैंने ये ईमानदारी पूर्व केंद्रीय मंत्री और मेरे सबसे अच्छे मित्र अरुण जेटली से सीखी है।” रजत शर्मा ने आगे कहा कि जब उन्होंने डीडीसीए के अध्यक्ष पद की कमान संभाली थी तो संघ का खजाना खाली था, लेकिन अब एसोसिएशन के पास लगभग 25 करोड़ रुपये का कोष है।

गौरतलब है कि रजत शर्मा ने डीडीसीए अध्यक्ष रहते दिल्ली के ऐतिहासिक स्टेडियम फिरोजशाह कोटला का नाम बदलकर अरुण जेटली स्टेडियम रखने का प्रस्ताव दिया था, जिसे मंजूरी मिली। बता दें कि दिवंगत पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली और पत्रकार अरुण जेटली अच्छे मित्र थे। इसके अलावा अरुण जेटली DDCA के लंबे समय तक अक्ष्यक्ष रहे थे। रजत शर्मा को पिछले साल जुलाई 2018 में डीडीसीए का अध्यक्ष चुना गया था। इस रेस में रजत शर्मा ने पूर्व क्रिकेटर मदनलाल को पीछे छोड़ा था।