सोनभद्र ह’त्याकांड पी’ड़ितों से मिलने के बाद प्रियंका बोलीं- वो सभी जी रहे हैं डर के साये में

New Delhi :सोनभद्र ह’त्याकां’ड के पी’ड़ितों से मंगलवार को मिलने पहुंची प्रियंका गांधी ने एक दिन बाद यानी की बुधवार को कहा कि पी’ड़ित के परिवार जन अभी भी डर के साये में जी रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऊम्भा गांव में कोई पुलिस चौकी स्थापित नहीं की गई है और निवासी “भय में जी रहे हैं”। इसके लिए उन्होंने योगी सरकार पर अब तक कोई ठोस कदम न उठाने का आरोप लगाया है।

पूर्वी उत्तर प्रदेश की कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर हैंडल से बुधवार को इस विषय में लगातार दो ट्वीट किए हैं। उन्होंने लिखा कि सरकार को पीड़ितों के खि’लाफ सभी मा’मलों को वापस लेना चाहिए और उनकी सुरक्षा के बारे में सोचना चाहिए। पी’ड़ितों के परिजन अभी भी द’हशत के साये में जी रहे हैं।

आपको बता दें कि भूमि वि’वाद के कारण हुए न’रसं’हार में 10 लोगों का जान चली गई थी जिसके बाद वन विभाग ने मिर्जापुर और सोनभद्र के संदर्भ में एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी। उसमें यह खुलासा हुआ था कि सोनभद्र में एक लाख हेक्टेयर से ज्यादा वन भूमि पर अ’वैध रूप से नेता, अफसर और द’बंगों ने अपना क’ब्जा कर रखा है । खास बात यह है कि जिन अधिकारियों की यहां पर ड्यूटी लगाई गई थी उन्होंने भी सरकार को धो’खा दिया और आदिवासियों का हक छी’नकर अपनी आने वाली पीढियों का इंतजाम कर दिया।

यह घटना 17 जुलाई को सोनभद्र के घोरावल के ऊम्भा गाँव में घटी, जहाँ ग्राम प्रधान दो साल पहले खरीदी गई ज़मीन पर कब्जा करने गया था। हालांकि, उन्हें ग्रामीणों के विरोध के साथ मुलाकात की गई, जिसने कथित तौर पर उनके सहयोगियों द्वारा गोलीबारी की शुरुआत की, जिससे दस लोगों की मौत हो गई।