UP में भी कोरोना वायरस महामारी घोषित, सभी स्कूल-कॉलेज 22 तक बंद रहेंगे

New Delhi : Hariyana और  Delhi के बाद Uttar Pradesh में भी Corona Virus को महामारी घोषित कर दिया गया है। UP मेंसभी School और College 22 मार्च तक बंद रहेंगे। उत्तर प्रदेश में 10 से ज्यादा Corona Virus के पॉजिटिव लोगों की पहचान की जाचुकी है। वहीं सैकड़ों लोगों पर निगरानी रखी जा रही है।

प्रदेश में कोरोनावायरस के बढ़ते हुए प्रकोप को देखते हुए मुख्यमंत्री Yogi Adityanath ने शुक्रवार को बैठक बुलाई थी। बैठक मेंकोरोना वायरस के नियंत्रण को लेकर चल रहे कार्यों की समीक्षा की गई। साथ ही कई जरूरी दिशानिर्देश जारी किए गए। प्रेसकॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम डेढ़ माह पहले से ही तैयारी कर रहे थे। 24 मेडिकल कॉलेज में 448 बेड रिजर्वरखे गए हैं। बचाव पर ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में अभी तक कोरोना वायरस के 11 संदिग्ध मामले सामनेआए हैं, जिनमें से सात आगरा, दो गाजियाबाद, एक नोएडा तथा एक लखनऊ का मामला है। इनमें से 10 का उपचार दिल्ली केसफदरजंग अस्पताल में तथा एक का उपचार लखनऊ के केजीएमयू में चल रहा है। 

कोरोना के मद्देनजर बेसिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक के सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। 23 मार्च को समीक्षा के बाद आगे निर्णयलिया जाएगा। 

नोएडा में प्राइवेट फर्म में काम करने वाला व्यक्ति शुक्रवार को कोरोना वायरस से पीड़ित पाया गया। नोएडा के सीएमओ ने इस बात कीपुष्टि की है। कंपनी के 707 कर्मचारियों को स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रखा गया है।

इससे पहले दिल्ली समेत पूरे देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने भी ऐहतियात के तौर पर सभी सिनेमा हालऔर जिन स्कूलों कालेजों में परीक्षाएं नहीं हैं, उन सभी को आगामी 31 मार्च तक बंद करने का फैसला लिया। दिल्ली में सभी खेल, आयोजनों, सेमिनार, कॉन्फ्रेंस पर रोक लगा दी है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी, आईआईटी दिल्ली, जामिया, जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में परीक्षाएं, कक्षाएं, सेमिनार स्थगित कर दिएगए हैं। 

भारत में अब तक कोरोना के 76 संक्रमित पाए गए है। एक व्यक्ति की इससे मौ हुई है। इस वायरस के संक्रमण से अभी तक दुनियाभर में कम से कम 4900 लोगों की मौ हुई है और करीब 1.34 लाख से ज्यादा लोगों में इसके संक्रमण की पुष्टि हुई है। विश्व स्वास्थ्यसंगठन (डब्लूएचओ) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। इस बीच पुणे के राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) के वैज्ञानिक लगभग 11 आइसोलेट्स खोजने में सफल रहे हैं, लेकिन टीके को विकसित करने में कम से कम डेढ़ से दो साल लगेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + six =