योगी की राह पर JNU, दोषी छात्रों से की जाएगी तोड़फोड़ की भरपाई

New Delhi : पांच जनवरी को जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में हुई तोड़फोड़ की घटना पर प्रशासन ने सख्त रुख जाहिर किया है। जेएनयू रजिस्ट्रार प्रमोद कुमार ने कहा कि जो छात्र चिह्नित होंगे, वहीं तोड़फोड़ की भरपाई करेंगे।

रजिस्ट्रार ने कहा कि इस घटना से बहुत नुकसान हुआ है, इसका सही अंदाजा प्रॉक्टोरियल जांच के बाद लग पाएगा। जो छात्र हिंसा की घटना में चिह्नित होंगे, उन्हीं से इसका खर्च वसूला जाएगा। उन्होंने कहा कि पांच जनवरी को घटना हुई है, वो उसकी निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि ये अप्रत्याशित घटना हुई।

पिछले 80 दिनों से आंदोलन चल रहा था। उन्होंने बताया कि 20-25 शिकायतें पुलिस को दी गई हैं। जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष पर दर्ज एफआईआर पर उन्होंने कहा कि उन्हें ये नहीं पता कि आइशी पर किस मामले में एफआईआर हुई है। साथ ही कहा कि कोई आपराधिक कृत्य करता है तभी शिकायत होती है।