क्या कांग्रेस अकेले लड़ेगी चुनाव, अखिलेश और मायावती कल साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर करेंगे खुलासा

New Delhi: मिशन 2019 के लिए उत्तर प्रदेश में जबरदस्त घमासान देखने को मिल रहा है। वहीं अब लग रहा है कि, सपा-बसपा के साथ आने के बाद कांग्रेस अकेले ही लोकसभा में उतरेगी । सपा-बसपा के गठबंधन में कांग्रेस का हाथ नहीं होगा। वहीं इन दोनों पार्टियों के बीच सीट बंटवारे को लेकर कल साझा प्रेस कोंफ्रेस के जरिये फैसला होगा।

 

कल होगी सपा-बसपा सीट बंटवारे पर बात

2019 चुनाव के लिए सपा-बसपा ने साथ आने के लिए तैयारी कर ली है और अब वह दोनों एक साथ चुनावी मैदान में उतरने जा रहे हैं। वहीं कांग्रेस इस गठबंधन से अलग हो गई है और अब बताया जा रहा है कि, दोनों कल एक साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीट बंटवारे पर बात करेंगे।

akhilesh mayawati

कांग्रेस को गठबंधन में शामिल ना करने पर मची हलचल

मिशन 2019 के लिए ऐतिहासिक गठबंधन करने के बाद से यूपी की सियासत में जबरदस्त हलचल देखने को मिल रही है। वहीं अब अखिलेश यादव ने बसपा प्रमुख मायावती के साथ मिलकर गठबंधन को लेकर बात की। अखिलेश कहते हैं कि, कांग्रेस को शामिल किये जाने को लेकर अभी हम विचार करेंगे और जल्द ही इसपर कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। अखिलेश ने कहा-मैं और मायावती मिलकर इस गठबंधन पर विचार करेंगे।

CBI रेड पर पहली बार बोले अखिलेश

उत्तरप्रदेश में सियासी हलचल के बीच CBI की रेड से घमसान और अधिक हो गया है। बताया जा रहा है कि, चंद्रकला के बाद अब अखिलेश यादव पर भी इसकी आंच आ सकती है। तो वहीं इस मामले पर बात करते हुए अखिलेश ने पहली बार खुलकर जवाब दिया है। वह कहते हैं कि, आखिर सीबीआई छापेमारी क्यों कर रही है। जो पूछना है हमसे पूछ ले, लेकिन बीजेपी के लोग यह याद रखें कि जो संस्कृति वे छोड़कर जा रहे हैं, उसका कल उन्हें भी सामना करना पड़ेगा।”