चिदंबरम को अदालत से नहीं मिली राहत, अब 3 अक्टूबर तक रहना होगा तिहाड़ जेल में

New Delhi: INX मीडिया भ्रष्टाचार के आरोप में तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में रह रहे पी. चिदंबरम को अब 3 अक्टूबर तक तिहाड़ में ही रहना होगा। पूर्व वित्त मंत्री को 19 सितंबर तक के लिए अदालत ने न्यायिक हिरासत में रखने के लिए कहा था। जिसकी आज सुनवाई में उनकी इस हिरासत को दिल्ली की एक विशेष अदालत ने खत्म करने के बजाय और बढ़ा दिया है।

कांग्रेस नेता चिदंबरम को आज सुनवाई के लिए रोउज एवेन्यु अदालत में लाया गया जिसमें अदालत ने उन्हें जेल से रिहा करने के बजाय उनकी न्यायिक हिरासत को कुछ कारणों के चलते और बढ़ा दिया है। अब चिदंबरम को 3 अक्टूबर तक तिहाड़ जेल में ही रहना होगा।

74 वर्षीय चिदंबरम सीबीआई और ईडी दोनों द्वारा दर्ज मामलों में जांच का सामना कर रहे हैं। जो कि, 2007 में आईएनएक्स मीडिया को दी गई विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी में कथित अनियमितताओं से संबंधित है। जिसमें उनपर 2007 में 305 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप लगा था।

उन्हें सीबीआई ने 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था और पूछताछ के लिए अपनी हिरासत में भेजा था। पिछले हफ्ते, सीबीआई अदालत ने चिदंबरम को 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में रखने का फैसला सुनाया था।