प्रजा वेदिका बिल्डिंग गिराए जाने के बाद अब नायडू को घर भी करना होगा खाली, रेड्डी ने दिया नोटिस

New Delhi: आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू को उनका वर्तमान आवास खाली करने का आदेश दिया है।

आंध्रप्रदेश के पूर्व CM चंद्रबाबू नायडू की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही है। पहले रेड्डी ने उनके कार्यकाल में निर्मित प्रजा वेदिका को तो’ड़ने का आदेश दिया । अब रेड्डी ने उनके आधिकारिक आवास को भी खाली करने का आदेश दिया है।

आंध्रप्रदेश के पूर्व CM नायडू के बंगले पर आधी रात में चली JCB

दरअसल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने बड़ी का’र्रवाई की है। इसके तहत उन्होंने नायडू के आवास समेत 28 इमारतों को नोटिस जारी किया है। नोटिस में नायडू को जल्द से जल्द घर खाली करने को कहा गया है। रेड्डी सरकार का कहना है कि इन बिल्डिंग का निर्माण अ’वैध तरीके से करवाया गया था। बिल्डिंग निर्माण के लिए किसी भी तरह की कोई परमिशन नहीं ली गई थी इसलिए चंद्रबाबू नायडू को जल्द से जल्द ये भवन खाली करना होगा। इस बात से नायडू की परेशानी काफी बढ़ती ही जा रही है।

इससे पहले CM रेड्डी ने नायडू द्वारा बनवाए गए ‘प्रजा वेदिका’ पर भी बुलडोजर च’ढ़वा दिया था।

CM जगनमोहन रेड्डी के आदेश के बाद नायडू आनन-फानन में अपने आवास ‘प्रजा वेदिका’ पहुंचे थे । वहां पहले से ही TDP के कार्यकर्ता बंगले को तोड़े जाने का वि’रोध कर रहे थे। कार्यकर्ताओं के वि’रोध-प्र’दर्शन के बीच पुलिस की मौजूदगी में ‘प्रजा वेदिका’ को तो’ड़ने का काम मंगलवार देर रात को शुरू किया गया और आधी रात में नायडू के बंगले पर JCB चढ़ा दी गई थी।

नायडू का कहा था कि ‘CM रेड्डी बदला लेने के लिए ऐसा कर रहे हैं इसलिए उन्होंने मेरे बेटे लोकेश को मिली जेड श्रेणी की सुरक्षा को हटा लिया । वही मेरी सुरक्षा को भी रेड्डी ने घटा दिया।’साथ ही उनके और उनके बेटे को दी गई सुरक्षा में भी कमी कर दी थी।