अभी-अभी: अनंत कुमार के निधन के बाद CM कुमारस्वामी ने की उनके परिजनों से की मुलाकात, दी सांत्वना

New Delhi: लंबे वक्त से बीमार चल रहे बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री Ananth Kumar दुनिया से अलविदा कह गए। बता दें कि केंद्रीय मंत्री Ananth Kumar कैंसर से पीड़ित थे और उनका पिछले काफी वक्त से इलाज चल रहा था। 59 साल के Ananth Kumar पहले लंदन और न्यूयार्क में इलाज करा चुके थे। इसके बाद उन्हें कुछ दिनों पहले बेंगुलरु के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्होंने आज यानि सोमवार को 1 बजकर 50 मिनट पर अंतिम सांस ली।

ananth kumar

वहीं अब केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार के पार्थिव शरीर को पूरे सम्मान के साथ तिरंगे से लपेटा गया है और अब उनके पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार कल शाम को किया जाएगा। इसी बीच इस दुखद खबर सुन राजनीति गलियारों मे शोक की लहर दौड़ गई हैं। इस कड़ी में सीएम एचडी कुमारस्वामी ने अनंत कुमार के आवास पहुंचकर उनके परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी। वहीं पीएम मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया और कहा कि एक सहयोगी और दोस्त के निधन से काफी दुखी हूं। अनंत कुमार के परिवार और समर्थकों के लिए मेरी संवेदनाएं। उन्होंने कर्नाटक में पार्टी को मजबूत किया।

इनके अलावा, लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि मेरे लिए यह व्यक्तिगत नुकसान है। मैं संसद को सुचारू रूप से चलाने के लिए उन पर काफी हद तक निर्भर थी। वहीं बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी दिल्ली स्थित पार्टी के मुख्यालय में अनंत कुमार की फोटो पर फूल अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा रक्षा मंत्री निर्मला सीतारण ने कहा कि Ananth Kumar से जुड़ी खबर सुनकर काफी दुख हुआ। उन्होंने लंबा समय भारतीय जनता पार्टी को दिया। बेंगुलरु उनके दिल और दिमाग में बसता था और भगवान इस क्षति को सहने की शक्ति उनके परिवार को दे।

जानकारी के लिए आपको बता दें,  Ananth Kuma का जन्म 22 जुलाई 1959 को हुआ था और वे साल 1996 में बेंगुलरू साउथ लोकसभा सीट से सांसद बने थे। वहीं अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत से पहले वे एक छात्र नेता और इसके बाद राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से जुड़े। इसके अलावा वे केंद्र सरकार में संसदीय कार्यमंत्री भी थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *