चिराग बोले- मैं PM नरेंद्र मोदी का हनुमान हूं, वे मेरे दिल में बसते हैं, मुझे उनकी तस्वीर नहीं लगानी

New Delhi : बिहार चुनाव में भारतीय जनता पार्टी केंद्र में अपने सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी का कड़ा विरोध कर रही है। आज भाजपा ने लोजपा को ‘वोट कटवा’ तक कह दिया है। पार्टी ने कहा कि लोजपा नेता भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का नाम लेकर चुनाव प्रचार में ‘भ्रम की राजनीति’ कर रहे हैं। अब लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने इस पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री मोदी का हनुमान हूं। मुझे उनके चित्र की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा, “मैं प्रधानमंत्री का हनुमान हूं।” वे मेरे दिल में रहते हैं। मैं अपना दिल चीर सकता हूं और मुझे उनकी तस्वीर नहीं लगानी होगी।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- चिराग पासवान ने बिहार में अपना रास्ता चुना है और वह हमसे अलग होकर चुनाव लड़ रहे हैं। वह भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का नाम लेकर भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। यह झूठी बयानबाजी सफल नहीं होगी। जावड़ेकर ने स्पष्ट किया कि बिहार चुनाव में भाजपा की कोई “बी, सी या डी टीम” नहीं है। उन्होंने कहा- हमारे पास केवल एक मजबूत टीम है और वह है..भाजपा, जद (यू), हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (हम) और विकास इन्सान पार्टी (वीआईपी)। चार दलों का हमारा गठबंधन एनडीए के चुनावों को मजबूती से लड़ रहा है। तीन-चौथाई जीतेंगे और हम कांग्रेस, राजद और माले के अपवित्र गठबंधन को हरा देंगे।
उन्होंने कहा- चिराग की पार्टी वोटकटवा पार्टी रहेगी। चुनावों पर ज्यादा असर नहीं डाल पाएंगे। हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि हमारा दूर-दूर तक कोई रिश्ता नहीं है। हमें भ्रम की राजनीति पसंद नहीं है।
बता दें कि लोजपा नेता और चिराग पासवान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की प्रशंसा करते रहे हैं जबकि वह नीतीश कुमार पर निशाना साधते रहते हैं। इस वजह से, सामान्य चर्चा है कि भाजपा और लोजपा के बीच आंतरिक सांठगांठ है। भाजपा महासचिव और बिहार के प्रभारी भूपेंद्र यादव को भी ट्वीट करके इस संबंध में स्पष्टीकरण पेश करना पड़ा। उन्होंने कहा- चिराग पासवान प्रधानमंत्री के नाम के इस्तेमाल पर भ्रम पैदा करना चाहते हैं। हमने न तो एलजेपी के साथ गठबंधन किया है और न ही चुनाव में एनडीए का हिस्सा हैं।

उन्होंने ट्वीट किया- चिराग को न तो भ्रम में रहना चाहिए, न ही भ्रमित होना चाहिए और न ही भ्रम फैलाना चाहिए। यादव ने नीतीश कुमार के खिलाफ चिराग के बयानों को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया और याद दिलाया कि एनडीए में रहते हुए उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा और सांसद बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixty four + = seventy two