चीन की सेना ने लद्दाख में शुरू की सुरंग की खुदाई, भारतीय सेना को घुसने से रोका

New Delhi: लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के निकट चीनी सेना के निर्माण कार्य शुरू करने से सीमा पर तनाव बढ़ गया है। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि चीन के सैनिकों ने यहां टेंट लगाए हैं और गश्त भी बढ़ा दी है।

सेना ने कुछ सुरंग बना ली हैं जबकि कुछ का निर्माण जारी है। इन सुरंगों को पेनगॉन्ग लेक क्षेत्र में विवादित फिंग 8 माउंटेन के पास तैयार किया जा रहा है। वहीं, चीनी सैनिक अब इस क्षेत्र में भारतीय सेना को आने-जाने से रोक रहे रहे हैं। इससे पहले भारतीय सैनिक इस क्षेत्र में आते-जाते रहे हैं। यह पहली बार है जब इस विवादित क्षेत्र में निर्माण कार्य हो रहा है।

हालांकि, भारत-चीन सीमा पर स्थित यह क्षेत्र हमेशा से विवादों का कारण रहा है। इसका कारण सीमा का स्पष्ट नहीं होना है। दोनों देशों का एलएसी को लेकर अपना-अपना दावा है। दूसरी तरफ चीनी सैनिकों के लिए यह स्थाई ठिकाना बनता जा रहा है। यह भारत की सुरक्षा के लिहाज से चिंताजनक है।

पेनगॉन्ग लेक का काफी हिस्सा विवादित है। इसका दो तिहाई हिस्सा चीन के कब्जे वाले तिब्बत में है, बाकी भारतीय सीमा में है। इस झील की सीमा की लंबाई करीब 134 किलोमीटर है। चीन को झील के उत्तरी हिस्से में भारतीय जवानों की मौजूदगी पर ऐतराज रहा है। इस साल सितंबर में भी चीनी सैनिकों ने लद्दाख के उत्तरी हिस्से में घुसपैठ कर तंबू लगा दिए थे। दोनों सेनाओं के बीच फ्लैग मीटिंग होने के बाद चीनी पीछे हटने को तैयार हो गए थे।