चीन ने अमेरिकी सीनेटरों पर लगाया बैन- उइगर मुस्लिमों को लेकर अमेरिकी प्रतिबंध का जवाब

New Delhi : चीन ने सोमवार को कहा – चीन अमेरिकी सीनेटरों मार्को रुबिओ और टेड क्रूज़ के अलावा धार्मिक स्वतंत्रता संबंधी राजदूत सैम ब्राउनबैक तथा क्रिस स्मिथ के प्रवेश पर प्रतिबंध लगायेगा। चीन ने यह प्रतिबंध अल्पसंख्यक समूहों और लोगों के पंथ के प्रति सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की नीतियों की उनकी आलोचना को लेकर लगाया है।

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा – अमेरिका द्वारा की गई कार्रवाइयों से चीन-अमेरिका संबंधों को गंभीर नुकसान पहुंचा है और चीन इसे अपने आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप के रूप में देखता है। उन्होंने कहा – चीन इसके खिलाफ अपनी राष्ट्रीय संप्रभुता बनाए रखने के लिए दृढ़ है। हुआ ने कहा – चीन स्थिति के अनुसार आगे प्रतिक्रिया देगा। इस बीच इस बारे में कोई संकेत नहीं है कि इन चारों में से किसी की चीन यात्रा की योजना है।

ऐसा प्रतीत होता है कि चीन का यह कदम अमेरिका की उस कार्रवाई के जवाब में है जिसके तहत शिनजियांग क्षेत्र के प्रमुख चेन क्वांगु सहित चार चीनी अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाये गये हैं। शिनजियांग में मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों के 10 लाख से ज्यादा सदस्यों को कैद कर रखा गया है। हालांकि चीन का कहना है कि वे शिविर लोगों को कट्टरपंथ से मुक्त कराने वाले केंद्र हैं। आलोचकों ने उन शिविरों की तुलना जेलों से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

38 − = thirty