कैप्टन अमरिंदर सिंह का पंजाब के किसानों से वादा,”किसानों को हर दिन देंगे 8 घंटे बिजली”

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आगामी 13 जून से शुरू होने वाले धान के मौसम के लिए किसानों को हर दिन आठ घंटे बिजली आपूर्ति का आश्वासन दिया, जबकि अन्य सभी उपभोक्ता श्रेणियों के लिए 24 घंटे बिजली की आपूर्ति का वादा किया

गर्मी और धान के मौसम के दौरान बिजली की आपूर्ति के लिए पंजाब स्टेट पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (PSPCL) और पंजाब स्टेट ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (PSTCL) की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए एक बैठक में उन्होंने कहा कि उनकी सरकार गुणवत्तापूर्ण बिजली की आपूर्ति के लिए प्रतिबद्ध थी।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, बिजली कंपनियों ने मुख्यमंत्री को 14,000 मेगावाट की मांग को पूरा करने के लिए किए गए प्रबंधों के बारे में जानकारी दी, हालांकि पीएसपीसीएल द्वारा मांग लगभग 13,500 मेगावाट होने की संभावना थी।

मुख्यमंत्री ने पीएसपीसीएल और पीएसटीसीएल को राज्य के सभी क्षेत्रों में गर्मी और धान के मौसम के दौरान चौबीसों घंटे आपूर्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 के लिए पंजाब के 34,52,600 उपभोक्ताओं को लाभ के लिए 8,855 करोड़ रुपये की सब्सिडी दी गई थी और वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 37,40,348 उपभोक्ताओं को 9,674 करोड़ रुपये की सब्सिडी दी जाएगी।

उन्होंने कहा, “एससी, गैर-एससी, बीपीएल और बीसी घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति माह दो सौ यूनिट बिजली की आपूर्ति  मुफ्त की जा रही है, कुल मिलाकर लगभग 21 लाख से अधिक यूनि़ट बिजली बिना शर्त के दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 1,44,000 उद्योगों को बिजली की सब्सिडी दे रही है, और लगभग 1,05,000 छोटे बिजली उपभोक्ताओं को कुल 4.99 रुपये प्रति यूनिट की दर से सब्सिडी दी जा रही है, जो कि कोई निश्चित शुल्क नहीं है। 30,000 से अधिक मध्यम और 9,000 बड़े आपूर्ति उपभोक्ताओं से 5 रुपये प्रति यूनिट की रियायती शुल्क लिया जा रहा था।

बता कि लोकसभा चुनाव में जहां देशभर में कांग्रेस पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा वहीं पंजाब में कुल 13 सीटों में से 8 सीटें जीतकर कांग्रेस ने बेहतरीन प्रदर्शन किया ।

kaushlendra

सामाजिक और राजनीतिक विषयों पर लिखने में दिलचस्पी है।गांधी जी का फैन हूँ।समाज में जागरुकता लाना उद्देश्य है।पत्रकारिता मेरा प्रोफेशन है,जुनून है और प्यार भी है।
kaushlendra