बायोमैट्रिक सिस्टम में भारत सबसे आगे, आधार की सुरक्षा को और मजबूत करे सरकार- IMF

बायोमैट्रिक सिस्टम में भारत सबसे आगे, आधार की सुरक्षा को और मजबूत करे सरकार- IMF

By: Aryan Paul
April 13, 06:04
0
New Delhi: IMF का आधार को लेकर कहना है कि भारत को आधार जैसे बड़ी योजना की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए। इसके साथ ही IMF ने बॉयोमैट्रिक कॉर्ड मामले में भारत को सबसे आगे बताया है।

IMF ने डिजिटल को लेकर सरकार को निर्देश देते हुए कहा है कि डिजिटलीकरण से मजबूत प्रशासन और फाइनेंसियल मामलों में काफी हद तक ट्रांसपेरेंसी लायी जा सकती है। साथ ही कहा कि आधार और इलेक्ट्रॉनिक भुगतान ने एलपीजी छूट की खामियों को काफी हद तक दूर करने में मदद की है। रिपोर्ट में कहा गया, है कि भारत बॉयोमैट्रिक में 1.2 अरब रजिस्ट्रर्ड नागरिकों के साथ दुनिया में सबसे आगे है। 

वहीं दूसरी तरफ मामले में SC ने केंद्र सरकार से पूछा है कि आधार अर्थव्यवस्था के लिए खतरा पैदा करने वाली मनी लॉन्ड्रिग की समस्या पर लगाम कैसे कसेगा? बता दें कि आधार को लेकर हवाला लेन-देन के भी कई मामले सामने आए हैं, जिन पर भी कोर्ट सुनवाई कर रहा है। बता दें कि CJI दीपक मिश्रा की बेंच 2016 के आधार की वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है।  

जबकि आधार पर मोदी सरकार का ये कहना है कि अधिकारियों ने जिन 33 हजार करोड़ रुपये पता लगाया है, उन पर पहले कभी टैक्स नहीं लगा। ये आधार के साथ पैन कार्ड से जोड़े जाने के कारण ही संभव हो सका। सरकार का कहना है कि अगर सबका अकाउंट आधार से लिंक हो जाए, तो इससे बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी रोकने में सफलता मिलेगी।

सरकार ने कहा कि पैन को आधार संख्या से जोड़ने से टैक्स चोरी, और कालेधन का यूज रोक जा सकेगा। इसके अलावा टैक्स चोरी के उद्देश्य से दो पैन कार्ड बनवाने का सिलसिला भी बंद होगा। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।