शर्मनाक : बुलंदशहर हिं’सा के आ’रोपियों का फूल माला से हुआ स्वागत, ज’मानत पर हुये है रिहा

New Delhi : बुलंदशहर भीड़ हिं’सा मामले में शनिवार को जमानत पर रिहा हुये छह आ’रोपियों का लोगों ने फूल माला से स्वागत किया। मुख्य साजिशकर्ता शिखर अग्रवाल सहित आ’रोपियों के रि’हा होने के बाद जयकारों और ‘जय श्री राम’, ‘भारत माता की जय’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाये गये। समर्थकों ने आरोपी के साथ सेल्फी क्लिक की। पूरी घटना की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं।

शनिवार को जिन आरोपियों को जमानत पर रिहा किया गया, उनमें जीतू फौजी, शिखर अग्रवाल, उपेंद्र सिंह राघव, हेमू, सौरव और रोहित राघव शामिल हैं। जैसे ही आरोपी बाहर आए, उनके समर्थकों ने हंगामा किया और नारेबाजी शुरू कर दी।

पिछले साल दिसंबर में बुलंदशहर के सियाना गो’मांस को ले जाने के शक में भीड़ उ’ग्र हो गई जिससे हिं’सा भ’ड़क गई थी। अफवाह फैलने के बाद आसपास के कई गांव से लोग चिंगरावठी चौकी पहुंच गए थे. जिसके बाद थाने में जाकर उ’पद्रव मचाया था। इस दौरान प’त्थरबाजी और फा’यरिंग की गई थी. साथ ही थाने को आ’ग के ह’वाले कर दिया गया था इस हिं’सा में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की गो’ली मा’रकर ह’त्या कर दी गई थी। हिं’सा में सीओ समेत कुछ पुलिसकर्मी ज’ख्मी भी हुए थे। जिसमे इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की गोली लगने से मौ’त हो गई थी। इस हिं’सा में एक अन्य युवक की भी ह’त्या की गई थी।

हिंसा के बाद पुलिस ने दो अलग-अलग मामले दर्ज किए थे। जिसमे एक मामला हिं’सा गोकशी और दूसरा मामला इंस्पेक्टर की मौ’त का था। जिसमे से गोकशी का मामला बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज ने दर्ज कराया था। इसके अलावा बुलंदशहर के जिलाधिकारी अनुज झा ने बताया कि सुबोध कुमार की मौ’त गो’ली लगने से हुई थी.इस घटना के बाद भी कई दिनों राजनीति हुई थी।