झारखंड चुनाव: BJP ने जारी किया संकल्प- पत्र, आदिवासियों के लिए किए कई बड़े वादे

New Delhi: झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने अपना घोषणा पत्र जारी किया। रांची के एक होटल बीएनआर में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पार्टी के घोषणापत्र को संकल्प पत्र के रूप में जारी किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री रघुवर दास, बीजेपी के विधानसभा चुनाव प्रभारी ओम माथुर, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा और केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा सहित पार्टी के शीर्ष नेता उपस्थित रहे।

संकल्प पत्र को जारी करने के दौरान मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 2014 के विधानसभा चुनावों के दौरान जारी घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा करने का दावा किया। उन्होंने कहा कि संकल्प पत्र हमारे लिए गीता, बाइबिल और कुरान की तरह पवित्र ग्रंथ है। सीेएम ने कहा कि राज्य से भ्र’ष्टाचार खत्म करेंगे, ट्रांसफर- पोस्टिंग उद्योग बंद करेंगे। हमारी सरकार ने बालिकाओं का जीवन सुंदर बनाने के लिए मुख्यमंत्री सुकन्या योजना शुरू की। हमने वादा किया था कि अचल संपत्ति की रजिस्ट्री में महिलाओं को विशेष छूट दी जाएगी। हमने ये कर दिखाया। 50 लाख तक की रजिस्ट्री महिलाओं के नाम एक रुपये में हो रही है।

सीएम ने कहा कि बीजेपी सरकार, किसानों के सम्यक विकास के लिए प्रतिबध्द है। डबल इंजन की सरकार की वजह से जहां प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के 6 हजार रुपए और हमारी मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत पांच एकड़ तक 25 हजार रुपये सरकार दे रही है।

बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में आदिवासियों के लिए कई बड़े वादे किए। बीजेपी ने वादा किया कि 2022 तक आदिवासियों के लिए तकनीकी और व्यावसायिक शिक्षा एक केंद्र बनाया जाएगा । इसके अलावा 70 नए मॉडल स्कूल की स्थापना करेंगे। संकल्प पत्र में बीजेपी ने महिला सशक्तीकरण पर खास फोकस रखा है। इसके साथ ही सस्ती, सुलभ और गुणवत्तापूर्ण कृषि उत्पादों की भी चिंता की गई है। संकल्प पत्र में कहा गया है कि आदित्यपुर में एक मेट्रो रेल कोच फैक्ट्री बनाई जाएगी। चतरा और चाईबासा में दो स्टील प्लांट बनेंगे।

झारखंड में चुनाव खर्च पर निगरानी के लिए ECI ने मुरली कुमार को नियुक्त किया विशेष पर्यवेक्षक

विधायक पद की शपथ लेने के बाद बोले आदित्य ठाकरे- नया महाराष्ट्र बनाने के लिए हैं प्रतिबद्ध