भाजपा विधायक का वि’वादित बयान कहा,एससी/एसटी एक्ट और आरक्षण को किया जाए खत्म

उत्तर-प्रदेश में बलिया जिले के बैरिया से विधायक हैं सुरेंद्र सिंह। पार्टी है भारतीय जनता पार्टी। हमेशा अपने वि’वादा’स्पद बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। विधायक एक बार फिर अपने विवा’दि’त बयान को लेकर चर्चा में हैं। उन्होंने कहा है कि आज जातिवाद  SC / ST एक्ट के कारण जीवित है, यदि इस अधिनियम को निरस्त किया जाता है तो कोई छु’आछू’त नहीं होगी।उन्होंने कहा कि एससी / एसटी एक्ट और आरक्षण ने जातिवाद को जीवित रखा है।

बलिया से भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह हमेशा अपने वि’वादि’त बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं।कुछ दिन पहले ही उन्होंने बयान दिया था कि मुस्लिमों में एक-एक आदमी की 50-50 बीवियां होती हैं और 1050 बच्चे होते हैं।उन्होंने इसे जानवरी प्रवृत्ति कहा था।

इससे पहले उन्होंने एक और विवा’दि’त बयान देते हुए कहा था कि 2024 में आरएसएस के 100 साल पूरे होने पर भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कर दिया जाएगा।इससे पहले उन्होंने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लेकर भी वि’वादि’त बयान दिया था।

भाजपा विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा का अपनी मर्जी से करने के मामले में भी सुरेन्द्र सिंह ने एक वि’वादि’त बयान दिया था। विधायक सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि, साक्षी का यह निर्णय कामुकता वश काम वासना से वशीभूत होकर लिया गया है जिसको कहीं से भी अच्छा नहीं कहा जा सकता है।

इसके पहले भी सुरेन्द्र ने मायावती को लेकर एक वि’वादि’त बयान दिया था। सुरेन्द्र ने कहा था कि – मायावती जी खुद रोज फेशिअल करवाती हैं, वो क्या हमारे नेता को शौकीन कहेंगी। बाल पका हुआ है और रंगीन करवाके आज भी अपने आप को मायावती जी जवान साबित करती हैं, 60 साल की हो गईं लेकिन सब बाल काले हैं। ’

गोरखपुर उपचुनाव के समय में भी सुरेंद्र सिंह ने अपने एक बयान के जरिये कहा था कि 2019 का लोकसभा चुनाव इस्लाम और भगवान के बीच होगा। जून 2018 में सुरेन्द्र ने कहा था कि सरकारी अधिकारियों से बेहतर वेश्या’एं होती हैं।

kaushlendra

सामाजिक और राजनीतिक विषयों पर लिखने में दिलचस्पी है।गांधी जी का फैन हूँ।समाज में जागरुकता लाना उद्देश्य है।पत्रकारिता मेरा प्रोफेशन है,जुनून है और प्यार भी है।
kaushlendra