जड़ी बूटियों से जानलेवा बीमारियों का इलाज करती है ये महिला.. सैंकड़ों लोगों को कर चुकी है ठीक

New Delhi : पिछली बार जब पद्म सम्मानों की लिस्ट जारी की गई। इसमें कुछ ऐसे नाम भी सामने आए जिनके बारे में आपने सुना नहीं होगा, लेकिन हम आपको बता दें वे देश के निर्माण में लगातार योगदान दे रहे हैं। ऐसा ही एक नाम है केरल की रहने वाली 75 साल की लक्ष्मीकुट्टी का जो प्रकृति का सहारा लेकर कई साल से लोगों की बीमारियां दूर करती आ रही हैं।

कई गंभीर रोग भी कर देती हैं पल में दूर : तिरुअनंतपुरम के कल्लार फॉरेस्ट एरिया में रहने वाली आदिवासी लक्ष्मी पिछले 50 साल से पारंपरिक औषधियों से लोगों का इलाज करती आ रही हैं। केरल सरकार की ओर से नट्टू वैद्य रत्न हासिल करने वाली लक्ष्मी सांप के जहर को निकालने के अलावा कई तरह की बीमारियों का इलाज औषधियों से कर सकती हैं।

मां से मिला औषधियों का ज्ञान : वह कहती हैं कि प्रकृति हमें सभी दवाएं देती है। उन्होंने बताया, पारंपरिक औषधियों के बारे में मैंने अपनी मां से जाना। लोग मेरे पास जहर की दवा लेने आते हैं। बताया जाता है कि सांप का जहर किसी भी तरह का हो, वह उसका इलाज कर लेती हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्हें ‘जंगल की दादी मां’ कहा जाता है। बताया जाता है कि वो अबतक 500 लोगों का इलाज कर चुकी हैं। हालांकि लिखित आंकड़ा न होने के कारण वह बस इसे अपनी याद्दाश्त से ही बता पाती हैं।

1995 में लक्ष्मीकुट्टी को उस समय पहचान मिली जब केरल सरकार ने उन्हें नट्टू वैद्य रत्न पुरस्कार से नवाजा था। कहा जाता है कि 1950 में वह जनजातीय समुदाय से पहली लड़की थीं, जिसे स्कूल जाने का मौका मिला था। साथ ही उस वक्त उन्हें स्कूल जाने के लिए 10 किलोमीटर रोजाना पैदल चलना पड़ता था। साथ ही उन्होंने अपनी मां से ये चिकित्सा पद्धति सीखी थी।

The post जड़ी बूटियों से जानलेवा बीमारियों का इलाज करती है ये महिला.. सैंकड़ों लोगों को कर चुकी है ठीक appeared first on Live Bavaal.