शर्मनाक : BHU में दलित को गार्ड ने शौचालय में प्रवेश करने से रोका, छात्रा ने की शिकायत

New Delhi: सर्व विद्या की राजधानी कहे जाने वाले बनारस हिंदू विश्वविद्याल में गुरूवार को एक शर्म’नाक घटना घटी है। खबरों के अनुसार BHU महिला महाविद्लाय में एक दलित लड़की को एक सुरक्षाकर्मी ने शौचालय में प्रवेश करने से रोक दिया। छात्र ने कथित तौर पर कॉलेज के प्रिंसिपल, कुलपति और चीफ प्रॉक्टर के साथ इस घटना पर अपना विरोध दर्ज कराया।

रिपोर्ट के अनुसार  गुरुवार की दोपहर, छात्रा कॉलेज के गेट के बाहर स्थापित हेल्प डेस्क पर बैठी थी और जब वह टॉयलेट का उपयोग करने के लिए कॉलेज के अंदर गई, तो उसे वहां तैनात एक सुरक्षाकर्मी ने रोक लिया। कुलपति को  लिखे गए पत्र में  छात्रा ने उल्लेख किया कि वह बीएचयू महिला कॉलेज के कला संकाय में एक छात्र है।

इस घटना के बाद से जहां विश्वविद्यालय प्रशासन में हड़कंप है, वहीं अन्य छात्राओं में आक्रोश है। घटना की जानकारी होने पर चीफ प्रॉक्टर ने सुरक्षा अधिकारियों को भेजकर घटना की जानकारी ली। बीएचयू के चीफ प्रॉक्टर प्रो ओपी राय का कहना है कि छात्रा की शिकायत मिली है। इसके बाद ही सुरक्षा अधिकारी को मौके पर भेजा गया। गार्ड के मुताबिक छात्रा गेट के पास बने मेल टायलेट में जा रही थी, इससे मना करने पर आरोप लगाया गया। छात्रा से भी बातचीत करने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि दलित उत्पीड़न के कई मामले देश की सबसे पुरानी यूनीवर्सीटी में एक  BHU से आते रहते है। इस साल फरवरी में BHU के एक दलित प्रोफेसर की पिटाई का मामला भी सामने आया था। BHU के पूर्व वीसी लाल जी सिंह पर भी दलित उत्पीड़न के आरोप लग चुके हैं।