कश्मीर में गूंजा हर-हर महादेव: सामने आई बाबा बर्फानी की पहली तस्वीर.. आप भी घर बैठे दर्शन करें

NEW DELHI: पवित्र अमरनाथ यात्रा शुरू हो चुकी है। अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए तीर्थ यात्रियों का पहला जत्था रविवार को जम्मू से कश्मीर घाटी के लिए रवाना हो गया। 45 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा की औपचारिक शुरुआत सोमवार को हुई है और 15 अगस्त को श्रावन पूर्णिमा पर्व के दिन इसका समापन होगा।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, “तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे में 1,051 लोग उत्तरी कश्मीर के बालटाल आधार शिविर के लिए और 1,183 लोग पहलगाम आधार शिविर के लिए रवाना हुए हैं। श्रद्धालुओं में 1,839 पुरुष, 333 महिलाएं, 45 साधु और 17 बच्चे हैं।’ इस साल शांतिपूर्ण अमरनाथ यात्रा के लिए सुरक्षा के काफी कड़े इंतजाम किए गए हैं। बीते सप्ताह कश्मीर यात्रा के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अमरनाथ यात्रा सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की थी।

अमरनाथ यात्रा के पहले दिन जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक गुफा मंदिर में बाबा बर्फानी की ‘प्रथम पूजा’ में शामिल हुए। मलिक श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के प्रमुख भी हैं। यह संस्था राज्य और केंद्र सरकार की सहायता से अमरनाथ यात्रा के मामलों का प्रबंधन करती है। एसएएसबी के सूत्रों ने कहा कि मलिक ने मंदिर में पूजन किया और राज्य की निरंतर शांति, सद्भाव, प्रगति और समृद्धि के लिए प्रार्थना की। राज्यपाल के साथ श्राइन बोर्ड के सीईओ उमंग नरूला भी मौजूद थे।

नरूला ने कहा, ‘राज्यपाल ने आधार शिविरों में यत्रियों के लिए किए गए प्रबंध की समीक्षा की और उनके समर्थन और सहयोग के लिए राज्य सरकार, सेना, राज्य पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और अन्य एजेंसियों को बोर्ड की ओर से आभार जताया।