अटल टनल- दुनिया में सबसे बड़ी, थ्री-डी इफेक्ट में ग्लेशियर, बॉर्डर पर सेना आवागमन भी आसान

New Delhi : दुनिया में सर्वाधिक ऊंचाई पर बनी सबसे बड़ी सुरंग शनिवार को पब्लिक के लिये खोल दी जायेगी। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महत्वाकांक्षी परियोजना अटल टनल का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले आज शुक्रवार 2 अक्टूबर को देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इसका मुआयना किया। देखा कि उद‍्घाटन से पहले सबकुछ ठीक है या नहीं। इस दौरान करीब 9 किलोमीटर लंबे टनल में रक्षा मंत्री की गाड़ी जबरदस्त तेजी से दौड़ी। इस टनल को सामरिक दृष्टिकोण से भी बेहद अहमद माना जा रहा है।

इस टनल के शुरू हो जाने से लेह से मनाली का रास्ता करीब 5 घंटे कम समय में तय हो जायेगा। रोहतांग में बना यह टनल उच्च तकनीक और भारत के कौशल की निशानी होगी। अटल टनल को थ्री-डी तकनीक से लैस किया गया है। सुरंग के भीतर के 8.9 किलोमीटर लंबे सफर को तय करने के लिए अब सिर्फ 15 से 20 मिनट लगेंगे। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि देश-विदेश के मनाली घूमने आने वाले सैलानियों को रोहतांग सुरंग का सफर हमेशा यादगार साबित हो।
रोहतांग सुरंग के भीतर थ्रीडी तकनीक है। इस तकनीक के तहत जैसे ही पर्यटक सुरंग के भीतर प्रवेश करेंगे, उन्हें अंदर लगाई गई स्क्रीनें प्राकृतिक नजारों के साथ-साथ रोमांचित सफर की भी अनुभूति करायेंगी। सुरंग के भीतर सफर कर रहे लोगों को थ्रीडी तकनीक के माध्यम से ऐसा लगेगा कि वे बर्फ के ग्लेशियरों के बीच से गुजर रहे हैं। इसके अलावा उन्हें ऐसा भी महसूस होगा कि वे घने जंगलों के बीच से गुजर रहे हैं। रोहतांग सुरंग के भीतर हो रहे पानी के रिसाव वाले स्थल पर कंक्रीट का पुल तैयार किया गया है।

सुरंग की सैर करने के लिये सैलानियों को साउथ पोर्टल पर विशेष बसें उपलब्ध करवाई जायेंगी। सैलानी इन बसों में बैठकर रोहतांग सुरंग के नॉर्थपोर्टल तक पहुंचेंगे और 8.9 किलोमीटर लंबी इस सुरंग के बीच थ्रीडी तकनीकी से दिखाये जाने वाले नजारों को देखेंगे। करीग 10 हजार फीट की ऊंचाई पर बने इस टनल को अटल सरकार के कार्यकाल में साल 2005 में मंजूरी दी गई थी। अटल टनल को प्रतिदिन 3,000 कारों की यातायात घनत्व और 80 किमी / घंटा की अधिकतम गति के साथ 1,500 ट्रक प्रति दिन के लिये डिज़ाइन किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− eight = one