बीजेपी में शामिल होने के बाद अपराजिता सारंगी ने कहा- राजनीति के जरिए ओडिशा का करूंगी विकास

New Delhi: Odisha की Senior IAS महिला ऑफिसर Aparajita Sarangi ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है। कुछ ही दिन पहलें अपराजिता ने सरकारी सेवा से VRS यानी स्वैच्छिक सेवानिवृत्त योजना ले लिया था। नौकरी से वीआरएस लेने के बाद से ही चर्चा थी कि वह BJP में शामिल होने सकती हैं। बताया जा रहा हैं कि बीजेपी पार्टी के तमाम दिग्गज नेताओं ने अपराजिता से बातचीत की और बातचीत के बाद अपराजिता ने IAS पद से वीआरएस लेने का फैसला किया और बीजेपी अध्यक्ष Amit Shah और केंद्रीय मंत्री Dharmendra Pradhan की मौजूदगी में दिल्ली में वह पार्टी में शामिल हो गई।

Aparajita Sarangi

BJP में शामिल होने के बाद Aparajita Sarangi ने कहा कि मैं बड़े पैमाने पर लोगों के लिए काम करना चाहती हूं और इसके लिए राजनीति ही एकमात्र मंच है जो इस तरह के अवसर प्रदान करता है। मुझे लगता है कि राजनीति में आने से मुझे एक बड़ा मंच मिलेगा और मैं ओडिशा के लोगों के साथ काम करने में सक्षम हूं। आपको बता दें कि अपराजिता सारंगी 1994 बैच की ओडिशा कैडर की आईएएस अधिकारी रही हैं। अपराजिता 2013 से केंद्र सरकार में प्रतिनियुक्ति पर थीं।

माना जा रहा था कि वह अक्तूबर में अपने गृह राज्य ओडिशा वापस जा सकती हैं, लेकिन उन्होंने इससे पहले ही सितंबर में वीआरएस के लिए आवेदन कर इन अटकलों को खारिज कर दिया था। वीआरएस के आवेदन पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने हरी झंडी दे दी। जिसके बाद उनका राजनीति के ओर रूख करना बताया जा रहा था। जिसके बाद अपराजिता ने नौकरी के बाद राजनीति या किसी राजनीतिक दल में जाने की बात से इनकार किया था।

लेकिन बीजेपी के दिग्गज नेताओं के बातचीत करने के बाद उन्होंने अपना मन बदल लिया और बीजेपी में शामिल हो गई। अब राजनीति गलियारे में चर्चा हो रही है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में अपराजिता बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ सकती हैं। सूत्रों की मानें तो, अपराजिता को अन्य राजनीतिक दलों ने भी उनको अपनी-अपनी पार्टियों में आने का न्योता दिया था। बीजद उपाध्यक्ष देबी प्रसाद मिश्रा और बीजेपी नेता प्रदीप पुरोहित ने कहा था कि अगर अपराजिता सक्रिय राजनीति में आने की इच्छुक हैं तो उनकी पार्टी में उनका स्वागत है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *