J&K : अमित शाह बोले कश्मीरी पंचायतो के विकास के लिए चालीस हज़ार सरपंच कर रहे हैं काम

New Delhi : गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को बताया कश्मीर में लगातार विकास के कार्य किए जा रहे हैं। केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर में पंचायत चुनाव को सुनिश्चित किया जिसके बाद जम्मू कश्मीर की पंचायतों में 40000 सरपंच विकास के काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा अगले 4-5 दिनों में तहसील और जिला पंचायत के चुनाव भी होने जा रहे है। उन्होंने यह भी बताया राज्य में त्रिस्तरीय पंचायत प्रणाली पूरी तरह से कार्य करेगी।

आपको बता दें कुछ दिनों पहले जम्मू कश्मीर के सरपंचो ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। जिसमे गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीरी सरपंचो को पुलिस सुरक्षा के साथ ही 2-2 लाख का बीमा कवरेज देने की घोषणा की थी। बैठक के दौरान जम्मू कश्मीर के विकास से जुड़े मुद्दे पर चर्चा की गई। साथ ही यह सुनिश्चित किया गया कि विकास राशि को प्रधानों तक कैसे पहुँचे ताकि गाँव के सामने आने वाली विभिन्न समस्याओं को हल करने के लिए उस धन का उपयोग किया जा सके। बैठक में गाँव के मुखिया को गाँव के विकास में प्रत्यक्ष भागीदार बनाने की रणनीति पर भी चर्चा की गई थी।

आपको बता दें जम्मू कश्मीर की ग्राम पंचायतों को अधिकाधिक अधिकार दिए जा रहे हैं। धारा 370 हटाये जाने के बाद, संविधान के 73वें और 74वें संशोधनों में निहित प्रावधान स्वत: ही जम्मू-कश्मीर में भी लागू होंगे। लगभग 4500 पंचायतों में से 3500 पंचायतों के चुनावों में लचगभग 74% मतदाताओं ने 35000 पंचों को चुना है। पंचायतों के वित्तीय अधिकारों को दस गुना बढ़ा कर रु एक लाख तक कर दिया गया है। पंचायतों को अधिकार दिया गया है कि वे कर के माध्यम से अपना राजस्व बढ़ा सकें तथा प्रधानमंत्री आवास योजना जैसी विकास योजनाओं का सोशल आडिट/लेखा परीक्षा करवा सकें।