असम पहुंचकर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- अनुच्छेद 371 को किसी कीमत पर नहीं बदला जाएगा

New Delhi :  केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज दो दिन के दौरे पर असम पहुंच गए हैं। 31 अगस्त को जारी हुए राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की रिपोर्ट जारी होने के बाद शाह का असम का यह पहला दौरा है। शाह ने गुहावटी में आयोजित पूर्वोत्तर परिषद के 68 वें पूर्ण सत्र में कहा कि  ”महाभारत के युद्ध के अंदर बाबरुवाहन हो तो घटोत्कच हो, दोनों पूर्वोत्तर के थे। अर्जुन की शादी भी  यही मनिपुर में हुई थी। श्री कृष्णा के पोते का व्याह भी पूर्वोत्तर में हुआ था।”

गृहमंत्री, गुहावटी में नॉर्थ ईस्ट काउंसिल (एनईसी) की बैठक में हिस्सा लेंगे, जहां वे आठ राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों से मुलाकात भी करेंगे। उन्होंने  अपने संबोधन में कहा कि भारतीय संविधान का अनुच्छेद 371 एक विशेष प्रावधान है। भाजपा सरकार अनुच्छेद 371 का सम्मान करती है और इसे किसी भी तरह से नहीं बदलेगी। 

वहीं पीएम नरेंद्र मोदी रोहतक में विजय संकल्प रैली को सम्बोधित कर रहे हैं। सभा को सम्बोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि – ”मैं सबसे पहले तो लोकसभा चुनाव में भाजपा की झोली में हरियाणा की सारी सीटें भर देने के लिए आप सबका हृदय से धन्यवाद करता हूं”। राजनीति के आज के युग में 55 से 60% तक वोट पाना अपने आप में जन जागरण और जनविश्वास का एक अनमोल अवसर है”।

इसरो की आत्मा हिंदुस्तान में बसती है, देश को अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है : पीएम मोदी

रोहतक की अपनी यात्रा के बारे में बाते करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि- ‘पिछले साल चौधरी छोटू राम जी की प्रतिमा के लोकार्पण के लिए आया था, फिर मई में आपको अपने काम का हिसाब देने आया और आज फिर आपके बीच में आया हूं’।

शाह ने सरकार के सौ दिन पूरे होने पर PM को दी बधाई,कहा-गरीबों के कल्याण का पर्याय है मोदी सरकार