देश के सभी श्रद्धालुओं को बड़ी सौगात- चार धाम यात्रा की अनुमति मिली, करो तैयारी दर्शन की

New Delhi : कोरोना का कहर तो कम नहीं हुआ लेकिन तीर्थयात्रियों को राहत जरूर दे दी गई है। हालांकि इस छूट कर मूल आधारा तीर्थ पर्यटन पर आधारित मानव श्रम को कमाई उपलब्ध कराना ही है। फिलहाल तो उत्तराखंड सरकार ने तीर्थ यात्रियों को शुक्रवार 24 जुलाई को चार धाम यात्रा की सौगात दी है। अब उत्तराखंड के अलावा दूसरे राज्यों के तीर्थ यात्री भी चारधाम के दर्शन कर सकेंगे। अभी तक यह यात्रा सिर्फ उत्तराखंड के लोगों के लिये खुली थी।

देश और प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच सरकार ने इसके लिये गाइडलाइन भी बनाई है। बाहरी राज्यों से आने वाले तीर्थ यात्रियों को सभी गाइडलाइन का पालन करना होगा। गढ़वाल कमिश्नर रविनाथ रमन ने बताया कि चारधाम देवस्थनम बोर्ड ने बाहरी राज्यों के तीर्थ यात्रियों के लिये भी चारधाम शुरू कर दी है। प्रदेश में प्रवेश करने से पहले सभी तीर्थ यात्रियों को 72 घंटे पहले कोरोना टेस्ट कराना होगा।
गौरतलब है कि इससे पहले उत्तराखंड सरकार ने सिर्फ प्रदेशवासियों के लिए चारधाम करने की अनुमति दी थी। तीर्थ यात्रियों के लिए गाइडलाइन जारी करने के साथ ही सीमित संख्या में तीर्थ यात्रियों को चारधाम दर्शन की अनुमति दी गई थी। चारधाम यात्रा के लिए इच्छुक श्रद्धालुओं को यात्रा के पंजीकरण से पहले आईसीएमआर से 72 घंटे पहले कोरोना जांच करानी होगी। कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद ही यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वह ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराएं।
चारधाम में जाने के इच्छुक श्रद्धालु रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम् प्रबंधन बोर्ड की वेबसाइट में अपना व अपने परिजनों का नाम पंजीकृत करा सकते हैं। अगर किसी तीर्थ यात्री ने प्रदेश में प्रवेश करने से पहले कोरोना जांच नहीं कराई तो क्वारंटाइन अवधि पूरी करने के बाद वह चारधाम यात्रा पर जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventy four − 64 =