सारी तैयारी धरी रह गई- दुनिया का तीसरा सबसे संक्रमित देश बन गया भारत, रूस को भी पीछे छोड़ दिया

New Delhi : भारत में कोरोनावायरस के मामले रविवार को रूस से ज्यादा हो गए। यहां 6 लाख 95 हजार 396 मरीज हो गए, जबकि रूस में 6 लाख 81 हजार 251 मरीज हैं। इसके साथ ही भारत दुनिया में तीसरा सबसे संक्रमित देश हो गया है। पिछले 10 दिन के आंकड़े देखें तो भारत में मामले काफी तेजी से बढ़े हैं। रूस में जहां 67 हजार 634 केस मिले जबकि भारत में 2 लाख 919 मामले सामने आए।

भारत में 6.95 लाख केस होने में 158 दिन लगे। भारत में रोजाना औसतन 22 हजार से ज्यादा नए मरीज मिल रहे हैं। भारत में जून में 3 लाख 87 हजार 425 मामले सामने आए। यहां 21 जून के बाद से हर दिन 15 हजार से ज्यादा मामले मिल रहे हैं। वहीं, हर दिन सामने आने वाले मामलों में 4 जुलाई को यहां सबसे ज्यादा 24 हजार 18 मरीज मिले।
रूस में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले मई में मिले। इस महीने यहां सबसे ज्यादा 2 लाख 91 हजार 412 केस की पुष्टि हुई। हर दिन सामने आने वाले मामलों में यहां 11 मई को सबसे ज्यादा 11 हजार 656 केस मिले।

भारत में संक्रमण का पहला मामला 30 जनवरी को सामने आया था। इसके 110 दिन बाद यानी 10 मई को यह संख्या बढ़कर एक लाख हुई। इसके बाद मामले तेजी से बढ़ने लगे। महज 15 दिनों में ही आंकड़ा 2 लाख के पार हो गया। इसके बाद संक्रमितों की संख्या 2 से बढ़कर 3 लाख होने में महज 10 लगे। 3 से 4 लाख मामले होने में 8 दिन और अब 4 से 5 लाख मामले होने में केवल 6 दिन लगे। वहीं, 5 से 6 लाख होने में 5 दिन लगे।

रूस में संक्रमण का पहला मामला 31 जनवरी को सामने आया। इसके 91 दिन के बाद यानी 30 अप्रैल को यहां मरीजों की संख्या 1 लाख के पार हुई। इसके बाद, महज 11 दिन यानी 10 मई को संक्रमितों की संख्या 2 लाख हो गई। वहीं, अगले 10 दिन यानी 20 मई को तीन लाख से ज्यादा हो गए। वहीं, 3 से 4 लाख केस होने में 11 दिन (31 मई) लगे और 4 से 5 लाख होने में 12 दिन लग गए। वहीं, 5 से 6 लाख होने में 14 दिन लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

43 − thirty four =