‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम पर बोले अखिलेश यादव, इससे सिर्फ अमेरिका का फायदा होगा

New Delhi: आज (रविवार) रात अमेरिका के ह्यूस्टन में होने वाले हाउडी मोदी इवेंट, जिसमें राष्ट्रपति ट्रंप भी मौजूद रहेंगे, पर पूरी दुनिया नजरे जमाए बैठी है लेकिन इसके होने से पहले ही देश में राजनीति शुरू हो गई है। समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के मंच साझा करने और मीटिंग करने को अमेरिका के ही भले में बताया है। अखिलेश ने कहा कि उनके इस दौरे और मुलाकात से अमेरिका को ही फायदा होगा।

अखिलेश यादव ने कहा “हाउडी, मोदी!” , “घटना को ओवरहीप किया जा रहा है। असली सवाल यह है कि प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ट्रम्प के बीच होने वाली बातचीत का परिणाम क्या होगा।” उन्होंने आगे कहा “यह सुना गया है कि यह सौदा एक प्रस्ताव शामिल करने जा रहा है, जो अमेरिका से खाद्य पदार्थों, इलेक्ट्रॉनिक्स सामानों आदि के आयात को लेकर एक करार होगा। जिससे हमें अमेरिका को सामान के बदले डॉलर देना होगा इससे डॉलर के मुकाबले रुपया और कमजोर होगा।”

यादव ने आगे कहा कि चीन के साथ चल रहे व्यापार युद्ध के कारण अमेरिका भारत को लुभा रहा है। उन्होंने कहा, “चीन के आर्थिक मोर्चे पर अमेरिका को व्यापार का खतरा बढ़ गया है। यही वजह है कि भारत दुनिया का अगला सबसे बड़ा बाजार अमेरिका को दिखाई दे रहा है।”

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने और भारत को “अवसरों की जीवंत भूमि” के रूप में पेश करने के उद्देश्य से संयुक्त राज्य अमेरिका की एक सप्ताह की लंबी यात्रा के लिए रवाना हुए।

गौरतलब है कि इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी मौजूद रहेंगे। ह्यूस्टन के एनआरजी फुटबॉल स्टेडियम में होने जा रहे इस मेगा शो को 50 हजार लोग शामिल होंगे। ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम के गेट भारतीय समय के मुताबिक शाम 4.30 बजे खोल दिए जाएंगे और स्टेडियम में 9 बजे रात तक सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी और डोनाल्ड ट्रंप का भाषण होगा। इस कार्यक्रम का समापन भारतीय समय के मुताबिक रात 12।30 बजे होगा।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। हाउडी मोदी कार्यक्रम का तीन भाषाओं में लाइव प्रसारण होगा। हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा स्पैनिश भाषा में भी इस कार्यक्रम को देखा जा सकेगा।