निषाद पार्टी के BJP से गठबंधन पर अखिलेश का तंज, कहा-बीजेपी के लिए यह घाटे का सौदा

New Delhi: समाजवादी पार्टी के साथ लंबे समय तक रही निषाद पार्टी सपा से अलग होने के बाद आज आखिरकार भाजपा में शामिल हो गई है। वहीं प्रवीण निषाद और पार्टी गठबंधन को लेकर अब अखिलेश ने तंज कसा है और कहा कि, मौसेरे भाइयों की चुनाव में नैया डूब जायेगी। आज प्रवीण निषाद ने भाजपा का दामन थामा जिसके बाद सियासी हलचल और तेज हो गई।

 

मौसेरे भाइयों का डूबना तय है

गोरखपुर की निषाद पार्टी ने आज भाजपा के साथ गठबंधन कर लिया, साथ ही सांसद प्रवीण निषाद भी भाजपा में शामिल हो गए। इस गठबंधन पर अब अखिलेश यादव ने तंज कसा है और पार्टी की हार की बात कही। अखिलेश ने ट्विटर पर गुस्सा जाहिर करते हुए लिखा ‘विकास’ पूछ रहा है: गोरखपुर में सांसद जी को मठाधीशी का जो झोला भर प्रसाद मिला है, क्या उसे वो पूरा गटक जाएंगे या किसी से बाँटेंगे भी? ये भाजपा का घाटे का सौदा है क्योंकि जनता ने सांसद को नहीं, उनके पीछे एकजुट महागठबंधन को जिताया था. चुनाव में इन मौसेराें की नैया डूबना तय है। ऐसे में अखिलेश ने निषाद पार्टी के साथ ही भाजपा के लिए घाटे के सौदे की बात कहकर इलाके में कुछ लाभ न मिलने की बात कही है।

प्रवीण निषाद भाजपा में शामिल

गोरखपुर में समाजवादी पार्टी से अलग होने के बाद आज निषाद पार्टी के सांसद प्रवीण निषाद भाजपा में शामिल हो गए हैं। जाहिर है पिछले काफी ससमय से ऐसी चर्चाएं थीं कि, वह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। तो वहीं आज औपचारिक तौर पर वह भाजपा में शामिल हो गए। वहीं पार्टी का भी बीजेपी के साथ गठबंधन हो गया है।