EVM पर शरद पवार से अलग है उनके भतीजे अजित पवार की राय

(New Delhi) राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मुखिया शरद पवार और उनके भतीजे अजित पवार की राय एक दूसरे भिन्न है।हालाँकि अजित पवार ने किसी का नाम लेते हुए नहीं कहा लेकिन उन्होंने कहा कि,”कई लोगों को EVM पर सन्देह है उनको लगता है कि EVM से छेड़खानी की जा सकती है ये लोकतंत्र के लिए खतरा है।उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि ऐसा हो सकता है अगर ऐसा होता तो वे 5 राज्यों में चुनाव न हारते।”
उन्होंने भारतीय जनता पार्टी का नाम लिए बगैर कहा कि,अगर इसके साथ कोई छेड़खानी की जा सकती तो वह 5 राज्यों में चुनाव नहीं हारते।लेकिन महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने राज्यों के नाम नहीं बताये।
पिछले वर्ष भारतीय जनता पार्टी 3 राज्यों में चुनाव हारी थी।नवम्बर-दिसम्बर के माह में 5 राज्यों राजस्थान ,मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़,मिजोरम और तेलंगाना में चुनाव हुए थे।जहाँ 3 राज्यों मध्य प्रदेश,राजस्थान,छत्तीसगढ़ में भाजपा अपना गढ़ नहीं बचा पाई वहीं बाकी के दो राज्यों में कोई खास छाप नहीं छोड़ पाई थी।
आपको बताते चले शरद पवार उन नेताओं में से हैं जो लगातार EVM पर सन्देह व्यक्त करते रहे हैं।उनका कहना है की अब EVM को हटाकर मतपत्रों से चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराई जानी चाहिए।अभी पिछले सप्ताह भी उन्होंने EVM को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की थी।
यह पहली बार नहीं है इससे पहले बीते साल 30 अक्टूबर को मीडियाकर्मियों से रूबरू होते हुए भी अजित ने कहा था कि,व्यक्तिगत रूप से मुझे इन मशीनों पर भरोसा है।