अलका लांबा के समर्थन में उतरी कांग्रेस, अजय माकन बोले- आपने बिल्कुल सही किया अल्का जी !

NEW DELHI: आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा के एक ट्वीट से राजनीति में हलचलें तेज कर दी है।  अलका ने अपने ट्वीट में कहा था कि विधानसभा में चर्चा के दौरान उनसे राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लिए जाने को लेकर अपने भाषण में मांग शामिल करने को कहा गया था, जो मुझे मंजूर नही था। मैंने सदन से वॉक आउट किया। अब इसकी जो सजा मिलेगी, मैं उसके लिए तैयार हूं।

इस ट्वीट के बाद जमकर सियासत हो रही हैं। इस कड़ी में कांग्रेस नेता अजय माकन ने अलका लांबा की जमकर तारीफ की। उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा कि – अगर ऐसा है, तो आपने सही करा अल्का जी, राजीव जी देश के लिए शहीद हुए। हम उनकी क़ुर्बानी कैसे भूल सकते हैं?, जो आज तक भाजपा भी नहीं कर पाई, वो भाजपा की B टीम, AAP ने कर दिया। आपके ट्वाट के साथ संलग्न प्रस्ताव, किसी भी शंका को दूर कर देती है। इस प्रस्ताव का हम तीव्र निंदा करते हैं।

rajiv Gandhi

सूत्रों की मानें तो इस ट्वीट के बाद आप पार्टी ने उनकी प्राथमिक सदस्यता भी रद्द कर दी हैं और लांबा से इस्तीफा भी ले लिया हैं। चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा ने कहा कि मेरे वॉक आउट के बाद मुख्यमंत्री ने मुझे मैसेज किया कि मैं अपना इस्तीफा दे दूं.. विधायकी छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैंने पार्टी की टिकट पर चुनाव जीता हैं, पार्टी चाहती हैं तो मैं इस्तीफा देने के को तैयार हूं। लांबा ने अपने ट्वीट को लेकर कहा कि राजीव गांधी ने देश के लिए कई बलिदान दिए हैं और विधानसभा में मैनें उनका भारत रत्न वापस लेने के प्रस्ताव का समर्थन नहीं किया। पार्टी ने मुझसे इस्तीफा मांगा हैं, क्योंकि मैं पार्टी के फैसले के खिलाफ खड़ी हुआ।

इस मामले को लेकर आप के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने सफाई देते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री के बारे में जो लाइनें हैं वे सदन में पेश किए गए मूल प्रस्ताव का हिस्सा नहीं थी और एक सदस्य ने उस पर हाथ से लिखकर इन्हें शामिल किया था। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि इस तरीके से प्रस्ताव पास नहीं किया जा सकता। हालांकि, बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने दावा किया है कि राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लिए जाने का प्रस्ताव विधानसभा में पास हो चुका है और अब यह सदन की कार्यवाही का हिस्सा बन चुका है।