भाजपा के घोषणा पत्र पर अहमद पटेल का पलटवार, कहा-इससे अच्छा तो वह माफीनामा जारी करते

New Delhi: चुनाव से 2 दिन पहले भाजपा ने आज अपना घोषणा पत्र जारी किया और इसको संकल्प पत्र का नाम दिया। गरीब, युवा, रोजगार लोगों को घर देने जैसे सभी अहम मुद्दों को इसमें शामिल किया गया। वहीं अब भाजपा के घोषणा पत्र को लेकर कांग्रेस के सीनियर लीडर अहमद पटेल में निशाना साधा है और पीएम मोदी पर पलटवार किया है।

अहमद पटेल ने कहा कि, भाजपा के घोषणा पत्र और कांग्रेस के घोषणा पत्र के कवर पेज को देखकर ही यह साफ हो जाता है कि, जनता के हित की बात कौन कर रहा है।

 

भाजपा के घोषणा पत्र पर कांग्रेस का पलटवार

पहले चरण के मतदान से दो दिन पहले आज भाजपा ने अपना घोषणा पत्र जारी किया है। वहीं इसके जारी किये जाने के कुछ देर बाद ही विपक्ष के आरोप शुरू हो गए हैं। आपको बता दें कि, कांग्रेस के अहमद पटेल ने निशाना साधते हुए कहा कि, भाजपा को घोषणा पत्र की जगह एक माफीनामा पत्र जारी करना चाहिए था। वह कहते हैं कि, मोदी ने अपने कार्यकाल में कोई भी काम नहीं किये हैं और अब वह फिर जनता से बड़े-बड़े वादे कर रहे हैं। अहमद पटेल ने दोनों पार्टियों का मैनिफेस्टो हाथ में लेकर दिखाया और कहा कि, आप लोग इसको देखकर ही अंदाजा लगा सकते हैं कि, जनता के हित में कौन बात कर रहा है। भाजपा के घोषणा पत्र में सिर्फ मोदी ही नजर आ रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के घोषणा पत्र में जनता है और उनके हक की बात है।

यही नहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी पलटवार करते हुए कहा है कि, मोदी सरकार का मूल मंत्र “झांसे में फांसा’ देने वाला है। वह कहते हैं कि,यह घोषणा पत्र “मै मेरे और हम के अहंकार से चूर नजर आ रहा है।

राजनाथ सिंह बोले-संकल्प पत्र में राष्ट्रवाद

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने अपने संकल्प पत्र में राष्ट्र वाद के प्रति प्रतिबद्धता और आतंकवाद के प्रति जीरो टॅालरेंस की बात कहीं हैं। इसके अलावा हमने देश के किसानों के लिए 6000 सालाना देने का वादा किया। वहीं 60 के उम्र पार करने वाले किसानों को हमने पेंशन सुविधा देने का वादा किया है। वहीं हमने अपने संकल्प पत्र में उत्कृष्ठ इंजीनियरिंग कॅालेजों में सीटें बढ़ाने का वादा किया है। साथ ही सभी जमीन रिकॅार्ड को भी डिजिटल करने की बात कहीं है।