योगी के मंत्रियों के बाद अब यूपी के बड़े अधिकारियों को भी IIM लखनऊ देगा प्रशिक्षण

New Delhi:  हाल ही में भारतीय प्रबंधन संस्थान, लखनऊ के विशेष कार्यक्रम में यूपी सरकार के मंत्रियों और मुख्यमंत्री ने भाग लिया था। इसके बाद अब उत्तर प्रदेश में विभागीय प्रमुखों और वरिष्ठ अधिकारियों की बारी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतिष्ठित संस्थान में विभागीय प्रमुखों, जिला मजिस्ट्रेटों और उपायुक्तों के लिए एक ऐसे ही प्रशिक्षण कार्यक्रम की योजना बनाई है।

आदित्यनाथ ने कहा कि प्रशिक्षण से मंत्रियों को टीम भावना और अनुशासन के बारे में जानने में मदद मिली है। उन्होंने कहा, “ऐसा अनुभव विभिन्न सरकारी विभागों के अधिकारियों के लिए भी मददगार होगा।”

एक अधिकारी ने कहा कि उनका प्रशिक्षण राज्य में कुशल बजट प्रबंधन, सुशासन, ढांचागत विकास, औद्योगिक निवेश, रोजगार सृजन, कृषि, आवास और शहरी विकास जैसे विषयों पर केंद्रित होगा।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रियों को रविवार को IIM लखनऊ से सर्टिफिकेट मिल गया है। मंथन नामक तीन दिवसीय प्रशिक्षण के पूरा होने के बाद योगी और उनके मंत्रियों को आईआईएम लखनऊ का प्रमाण पत्र प्राप्त हुआ। यह मंत्रियों के लिए गर्व का क्षण था।

उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा, “इस पहल से मंत्रियों को अपनी कार्य को अच्छी तरह से समझने में मदद मिलेगी। इस पाठ्यक्रम लोक कल्याणकारी कार्यों के लिए एक नए दृष्टिकोण को विकसित करने में हमारी मदद की। ” इस बीच, प्रेस ने मंत्रियों के साथ बात की और पहले दो सत्रों के दौरान उनके अनुभव के बारे में पूछताछ की। उन्होंने इसे काफी लाभदायक बताया।