मुस्लिम महिलाओं को अपशब्द कहे, जबरदस्ती रोका – तुम ‘हिंदू स्टोर’ से खरीददारी नहीं कर सकती

New Delhi : कोरोना आपदा और लॉकडाउन के इस दौर में जब लोगों को खाना भी मुश्किल से नसीब हो रहा है और लाखों करोड़ों लोग बेरोजगार हो गये हैं, कर्नाटक में धार्मिक उन्माद फैलाया जा रहा है। कर्नाटक में हिंदुओं की दुकानों से सामान खरीदने पर मुस्लिम महिलाओं को धमकाने और बदसलूकी के मामले सामने आ रहे हैं। दो घटनाओं में वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने पांच ऐसे लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। ये महिलाओं को हिंदुओं की दुकानों से कपड़े खरीदने से रोक रहे थे। घटना दावांगेरे जिले की है।

दावांगेरे के एसपी हनुमनथरायप्पा ने कहा – हमने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है जो महिलाओं को एक दुकान में खरीदारी करने से रोक रहे थे। दुकान जार रहे लोगों से वह कह रहे थे कि मुस्लिम होकर वे उन दुकानों में क्यों जा रहे हैं।

पुलिस ने चार वीडियो फुटेज के आधार पर केस दर्ज किया है। ये चारों वीडियो वायरल हो गये हैं। इन वीडियो में कथित तौर पर कुछ लोग बुर्का पहनी महिलाओं से पूछताछ कर रहे हैं। उन्हें ‘हिंदू स्टोर’ जाने से रोक रहे हैं। उन्हें महिलाओं पर चिल्लाते हुये और शॉपिंग बैग झपटते हुये देखा जा सकता है। पुलिस ने कहा कि आईपीसी की विभिन्न धाराओं में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। इसी तरह की एक घटना दावांगेरे के एक अन्य कस्बे हरिहर में घटी है। जहां कुछ युवाओं ने हिंदुओं की दुकानों से खरीदारी को लेकर महिलाओं को गालियां दीं और उन्हें बाहर निकाल दिया।

बीजेपी की सांसद शोभा कारनदलाजे ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा – क्या कर्नाटक एक इस्लामिक गणतंत्र है। चरमपंथी मुस्लिम महिलाओं को हिंदू की दुकान से शॉपिंग करने पर धमका रहे हैं। ये धार्मिक कट्टरतावादी एक लोकतांत्रिक देश में शरिया कानून थोप रहे हैं। इन्हें भारतीय कानून से सबक सिखाया जाये। उन्होंने इस ट्वीट में गृह मंत्री अमित शाह को भी टैग किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− two = one