EVM हैकिंग मामला: अभिषेक मनु सिंघवी बोले-कांग्रेस का इसमें कोई लेना देना नहीं है

New Delhi: चुनाव से पहले ईवीएम को लेकर हुए चौंकाने वाले खुलासे से देश भर में जबरदस्त हलचल मच गई है। वहीं अब हैकर के इस खुलासे पर चुनाव आयोग ने कहा है कि ईवीएम हैकिंग का दावा गलत है। चुनाव आयोग चुनाव में जिन ईवीएम का इस्तेमाल करता है, वह पूरी तरह से सुरक्षित है. मशीन तकनीकी विशेषज्ञों की निगरानी में ही तैयार होती है। लंदन में हैकिंग को लेकर आयोजित कार्यक्रम को चुनाव आयोग ने प्रायोजित करार दिया है।

वहीं इस मामले को लेकर अभिषेक मनु सिंघवी ने कांग्रेस का साथ देते हुए कहा कि, हैकिंग में कांग्रेस शामिल नहीं है। यह सब गलत आरोप लगाए जा रहे हैं।

 

हैकरों का दावा-बीजेपी ही नहीं कांग्रेस, सपा और बसपा जैसी पार्टियां भी इसमें शामिल

लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा खुलासा हुआ है जिसमे बताया गया कि, 2014 के चुनाव में ईवीएम हैक की गई थी। जी हां आज लंदन में एक कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमे बताया गया कि, 14 के लोकसभा चुनाव में ईवीएम हैक की गई थी। इस दौरान हैकरों ने यह भी बताया कि, कैसे उसने हैक की थी। वहीं अब चुनाव से पहले हुए इस बड़े खुलासे के बाद से सियासी हलचल तेज हो गई है।

EVM hacking

2014 चुनाव में हुई हैकिंग

आज लंदन में ईवीएम हैकिंग को लेकर एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था जिसमे कई हैकर एक्सपर्ट ने खुलासे किये हैं। वहीं एक अमेरिकी टेक एक्सपर्ट ने ये दावा किया कि, गोपीनाथ मुंडे को इसकी जानकारी थी जिसके बाद उनकी जान ले ली गई। टेक एक्सपर्ट सैयद शूजा ने कई दावे किए हैं। 2014 आम चुनाव में धांधली और EVM हैकिंग की गई। वह कहते हैं कि, हालिया स्टेट इलेक्शन में उन्होंने ईवीएम हैकिंग को रोका। लेकिन वह कहते हैं कि, सिर्फ बीजेपी ही नहीं कांग्रेस, सपा और बसपा जैसी पार्टियां भी इसमें शामिल हैं। वहीं इलेक्शन कमीशन ने इन सभी खुलासों और दावों को गलत बताया और ख़ारिज कर दिया।

विपक्ष लगातार उठाता रहा है सवाल

बता दें कि भारत में विपक्षी पार्टियां ईवीएम की विश्वसनीयता पर कई बार सवाल उठा चुकी हैं। विपक्षी पार्टियां दावा कर चुकी हैं कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की जा सकती है। आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने विधानसभा में ईवीएम का डिमॉन्स्ट्रेशन देकर उसके हैक होने का दावा किया था। हालांकि, चुनाव आयोग ने ईवीएम के हैक होने या उसके साथ किसी तरह की छेड़छाड़ की आशंकाओं को खारिज किया और विपक्षी दलों को चुनौती दी कि वे उसका ईवीएम हैक कर दिखाएं।