राज्यपाल बीएस कोश्यारी से मुलाकात के बाद बोले आदित्य ठाकरे- महाराष्ट्र को देंगे एक स्थिर सरकार

New Delhi: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद महाराष्ट्र में सियासी खेल एकदम से पलट गया। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अब शिवसेना- एनसीपी- कांग्रेस के गठबंधन ने मंगलवार शाम को उध्दव ठाकरे को महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री के रूप में चुना है। इसके बाद शिवसेना अध्यक्ष ठाकरे ने राज्यपाल से मुलाकात की और ‘महाराष्ट्र विकास आघाड़ी’ की सरकार के गठन का दावा पेश किया। राज्यपाल से मिलने के बाद उध्दव के बेटे आदित्य ठाकरे ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम प्रदेश के लोगों के लिए बेहतर काम करना चाहते हैं।

आदित्य ठाकरे ने कहा, ‘राज्यपाल ने हमें आज अपना समय दिया, और सरकार बनाने का मौका दिया। हम लोगों के लिए काम करना चाहते हैं और राज्य को एक स्थिर सरकार प्रदान करना चाहते हैं।’

उध्दव ठाकरे 28 नवंबर को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। पहली बार शिवसेना परिवार का कोई नेता राज्य का मुख्यमंत्री बन रहा है। एनसीपी के महाराष्ट्र प्रमुख जयंत पाटिल ने अगले मुख्यमंत्री के रूप में उध्दव ठाकरे का नाम प्रस्तावित किया था। राज्य में कांग्रेस के प्रमुख बालासाहेब थोराट ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दी। बैठक में एनसीपी प्रमुख शरद पवार, पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल, कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण, समाजवादी पार्टी के अबू आजमी, स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के राजू शेट्टी और इन सभी दलों के सभी विधायक मौजूद थे। तीनों दलों ने अपने गठजोड़ का नाम ‘महाराष्ट्र विकास आघाड़ी’ नाम दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने बहुमत साबित करने के लिए दिए 30 घंटे, हम 30 मिनट में कर देंगे: संजय राउत

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बोले NCP नेता नवाब मलिक- सत्यमेव जयते, बीजेपी का खेल खत्म