सात साल की बेटी के साथ पिता तीन महीने से कर रहा था दु’ष्कर्म

New Delhi: राजस्थान के भीलवाड़ा में एक पिता अपनी बेटी को पिछले 3 महीने से ह’वश का शिकार बन रहा था। बेटी की उम्र मात्र 7 वर्ष की है। उसे बाल कल्याण समिति द्वारा बचाया गया। बाद में समिति ने यह मामला पुलिस को सौंप दिया। पुलिस का कहना है कि – शि’कायत दर्ज कर लिया गया है। पिता अपने घर से फरार है। उसे जल्द ही पकड़ने की पूरी कोशिश की जा रही है। उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

इंसानियत को श”र्मसार कर देने वाला यह पिता को श’राब की लत लग गई थी। जिसके कारण उसकी पत्नी ने उसे छोड़ दिया था। उसके बाद उसने बेटी को हैवानियत का शिकार बना डाला। भीलवाड़ा शहर के प्रतापनगर थाना क्षेत्र में रहने वाले व्यक्ति की नशे की लत ने उसे इंसान से है’वान बना दिया। है’वानियत का शि’कार बनी मासूम का कहना है कि पिता उसे स्कूल नहीं भेजता था और गलत काम करता था।

बाल कल्याण समिति सुमन त्रिवेदी का कहना है कि – प्रतापनगर थाना इलाके में रहने वाली बालिका ने अपने परिजनों के साथ आकर बताया कि नौ माह पहले पिता के शराबी होने की वजह से मां उसे  छोड़कर चली गई थी। मां बेटी को भी साथ लेकर गई थी। लेकिन कुछ दिन बाद ही  पिता उसे घर ले आया।

हवसी पिता बेटी को अपने साथ ही सुलाता था, और उसके साथ दुष्कर्म करता था। बेटी का कहना है कि उसके पिता के पास तलवार थी , वह उसी से उसे मार देने की धमकी भी देता था।