6 साल की सारा को मिला ‘दुनिया की सबसे कम उम्र की जीनियस’ का खिताब

New Delhi: तमिलनाडु की 6 साल की एक बच्ची को ‘दुनिया की सबसे कम उम्र की जीनियस’ करार दिया गया है। तमिलनाडु की क्यूब एसोसिएशन द्वारा सारा को जीनियस का खिताब दिया गया है। चेन्नई में आयोजित इस एसोसिएशन की ओर से 6 साल की सारा को सम्मानित किया गया है। साराह दिमागी कसरत में बड़े-बड़ों को मात देने में माहिर है। उसकी जीनियस के चर्चों से तो पूरा तमिलनाडु वाकिफ है।

जीनियसनेस की लड़ाई में इस नन्ही सी बच्ची का कोई मुकाबला नहीं है। रुबिक की क्यूब को सारा आंखों पर पट्टी बांधकर सॉल्व कर सकती है। सारा चुटकियों में ही रुबिक की क्यूब के अधिकतम (2×2) को हल कर लेती है। कठिन से कठिन कविताओं को वह तुरंत अपने दिमाग में छाप लेती है और काफी कम समय में ही इन कविताओं को बिना पढ़े ही सुना देती है।

सारा की खुबियां यहीं पर खत्म नहीं होती है, ऐसे कई दिमागी अभ्यास है जो वह पलकें झपकते ही पूरी कर देती है। 6 साल की सारा ने अपना नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराने की कोशिश की है। रिकॉर्ड की दुनिया में एक अलग ही पहचान रखने वाले गिनीज में साराह ने 2 मिनट 07 सेकंड में पहेली हल की है।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम अंकित करने की कोशिश में सारा प्रयासरत है। उम्मीद है कि वह इस मील के पत्थर को भी जल्द ही पार करेगी।