शादी की जल्दबाजी- सुहागरात के अगले दिन गई दूल्हे की जान, अब पटना के 111 लोग कोरोना पॉजेटिव

New Delhi : बिहार के पटना जिले के पालीगंज के डीहपाली गांव में हुए शादी समारोह से निकली कोरोना संक्रमण चेन थमने का नाम नहीं ले रही है। सोमवार को इस संक्रमण चेन से एक साथ 79 कोरोना संक्रमित मिले। समारोह में शामिल 369 लोगों की जांच में 79 संक्रमित पाये गये हैं। जबकि 31 पहले संक्रमित हो चुके हैं। इस समारोह में शामिल हुए 111 लोग अब तक संक्रमित मिल चुके हैं।

मसौढ़ी में मिले संक्रमित रिटायर्ड शिक्षक भी इसी शादी समारोह से जुड़े हैं। दूल्हे की जान तो शादी के दूसरे दिन ही चली गई थी। पालीगंज संक्रमण चेन ने पटना जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ा दी है। यह सामुदायिक संक्रमण का कारण बनता जा रहा है। पटना में एक दिन में किसी एक जगह पर इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने का यह रेकॉर्ड है। इससे पालीगंज बाजार और आसपास के गांवों के लोग भी दहशत में हैं।
यह शादी 15 जून को हुई थी। समारोह के एक दिन बाद ही 17 जून को दूल्हे की जान चली गई थी। हालांकि दूल्हे की कोरोना जांच नहीं हो पाई थी। उसके बाद बारातियों की जांच शुरू हुई, पहले चरण में नौ संक्रमित मिले। 22 जून को 15 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद चार चरणों में 369 लोगों के सैंपल लिये गये, जिनमें 79 लोग संक्रमित पाये गये। सोमवार को मिले सभी संक्रमितों को बिहटा स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

दूल्हा अनिल निजी वाहन से गुरुग्राम से लॉकडाउन के दौरान गांव आया था। उसकी शादी पहले से तय थी। विवाह के पहले से अनिल की तबियत खराब थी, लेकिन परिजन ने इस बात को दबा दिया। अनिल बाहर से आया था तब भी उसकी जांच नहीं कराई गई। 15 जून को बारात नौबतपुर गई। विवाह के दो दिन बाद ही अनिल की स्थिति खराब हो गई। परिजन उसे लेकर पटना एम्स पहुंचे, लेकिन अस्पताल के गेट पर ही उसने दम तोड़ दिया। इसके बाद परिजन गांव आये और उसका अंतिम संस्कार कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

44 + = 51