कोरोना बढ़ रहा है लेकिन लोग रोजगार के लिये लौटे, मुंबई में 5 लाख प्रवासी मजदूर वापस आये

New Delhi : राहत भरी खबर आ रही है। कोरोना बढ़ने के बाद भी गांव गये मजदूरों का आना शुरू हो गया है। महाराष्ट्र में धीरे-धीरे रोजगार के अवसर प्राप्त हो रहे हैं। औद्योगिक कारखाने, विभिन्न मेट्रो परियोजनाओं का काम शुरू होने सहित रोजगार की तलाश में फिर प्रवासी मजदूर मुंबई लौटने लगे हैं। रेलवे के मुताबिक साढ़े पांच लाख मजदूर वापस मुंबई लौट आये हैं।

लॉकडाउन के कारण पूरे महाराष्ट्र से 844 ट्रेनों से जून के पहले सप्ताह तक कुल 18 लाख श्रमिकों ने पलायन किया था। लगभग 10 लाख लोग मुंबई से बंद के दौरान अपने गांव लौट गए। इनमें से 7 लाख लोगों ने ट्रेन से और लगभग 2 लाख ने परिवहन के अन्य तरीकों से यात्रा की। अब मुंबई आने वाली 11 ट्रेनों के लिए उपलब्ध कराए गए आंकड़ों में से इस महीने 26 जून तक यात्रियों की संख्या 100 प्रतिशत है।
यही नहीं लोग वेटिंग टिकट खरीद रहे हैं। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रविंद्र भाकर ने बताया – 1 जून से लेकर अब तक दो लाख से अधिक यात्रियों को मुंबई ले आए हैं। उन्होंने बताया कि जब विशेष ट्रेनें चलनी शुरू हुई थीं, तो हमारी ट्रेनें सिर्फ 70 प्रतिशत भरी थीं, लेकिन अब ज्यादातर ट्रेनों में लगभग 100 प्रतिशत सीटें बुक हैं। पश्चिम रेलवे से यूपी, बिहार, राजस्थान और गुजरात के लिए ट्रेनें चलाई जाती हैं।
मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया – इन दिनों कुल 3.5 लाख यात्री 15 विभिन्न मार्गों से मुंबई पहुंचे हैं। इनमें से 2.50 लाख यात्री यूपी, बिहार और पश्चिम बंगाल से आए हैं। जुलाई में मुंबई आने वाली ट्रेनों की फुल बुकिंग है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

30 + = 38