दिल्ली में बेकाबू कोरोना की कमान ले मैदान में उतरे अमित शाह, केजरी प्रशासन, एमसीडी की कसेंगे पेंच

New Delhi : महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद कोरोना संक्रमण के मामले में राजधानी दिल्ली देश में तीसरे स्थान पर है। राजधानी में कोरोना की स्थिति से निपटने के तरीकों और अस्पतालों में मरीजों के लिए बिस्तरों की उपलब्धता नहीं होने और प्रयोगशालाओं में जांच में आ रही मुश्किलों को लेकर अलग-अलग वर्गों द्वारा आलोचना हो रही है। उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार 12 जून को शहर की सरकार को आड़े हाथों लेते हुये कहा – दिल्ली की अस्पतालों की स्थिति बेहद भयावह है। मरीजों के पास ही शव रखे दिख रहे हैं।
सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पाणी को दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने तो सहर्ष स्वीकार कर लिया। लेकिन केंद्र की मोदी सरकार को ऐसी दिल्ली स्वीकार नहीं। सो दिल्ली को पटरी पर लाने और बेकाबू कोरोना को नियंत्रित करने के लिये केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कमान अपने हाथ ले ली है।

केंद्रीय गृह मंत्री आज 14 जून को दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व अन्य के साथ बैठक करेंगे। इसके अलावा वह अलग से दिल्ली के तीनों नगर निगमों और निगम आयुक्तों के साथ भी एक बैठक करेंगे। यह बैठक दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर बुलाई गई है। दिल्ली में संक्रमण के 36 हजार मामले सामने आ चुके हैं।
शाह के कार्यालय की तरफ से किये गये ट्वीट में कहा गया- गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना के संदर्भ में स्थिति की समीक्षा के लिए दिल्ली के उप- राज्यपाल, मुख्यमंत्री और एसडीएमए के सदस्यों के साथ रविवार 14 जून को सुबह 11 बजे बैठक करेंगे। एम्स के निदेशक और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस दौरान मौजूद रहेंगे।
इसके कुछ देर बाद ही कार्यालय की तरफ से किये गये ट्वीट में कहा गया- केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन कल, 14 जून को शाम पांच बजे राजधानी में कोरोना की तैयारियों की समीक्षा के लिए दिल्ली नगर निगम के तीनों महापौरों के साथ बैठक करेंगे। एक अन्य ट्वीट में कहा गया- दिल्ली के उपराज्यपाल और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी इस दौरान उपस्थित रहेंगे। इसके अलावा एम्स के निदेशक, तीनों नगर निगमों के आयुक्त और केंद्रीय गृह व स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के आंकड़े शनिवार 13 जून को तीन लाख के पार पहुंच गये। एक दिन में संक्रमण के सबसे ज्यादा 11,458 मामले सामने आये। कोरोना वायरस संक्रमण से संबंधित आंकड़ों की वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के अनुसार, संक्रमण के मामले 3,08,993 होने के साथ ही भारत इस महामारी से सबसे बुरी तरह प्रभावित दुनिया का चौथा देश बन गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

55 + = 61