हम छत्तीसगढ़ से क्यों नहीं सीखते : कोरोना को हरा दिया, सिर्फ 6 एक्टिव मरीज, 2 दिन में 0 हो जायेंगे

New Delhi : पूरा देश कोरोना से बचने की जद्दोजहद में लगा है। ऐसे में कुछ राज्य ऐसे हैं जो कोरोना से लड़ने और जीतने का जज्बा पैदा कर रहे हैं। अब छत्तीसगढ़ को ही लीजिये। हम जैसे ही लोग हैं, व्यवहार में भी और मानसिकता में भी फिर भी ये जीत रहे हैं लेकिन मध्यप्रदेश कोरोना के चुंगल में फंसता जा रहा है। छत्तीसगढ़ का पड़ोसी और हूबहू एक जैसी समानताओं वाला राज्य झारखंड भी कोरोना के चुंगल में है। बिहार और उत्तर प्रदेश भी दलदल में धंसता ही जा रहा है। महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान और दिल्ली की बात ही क्या करना। यहां तो सांस लेने से भी लोगों को डर लग रहा है। कोरोना के मरीज इस तेजी से आ रहे हैं कि लोगों को लग रहा है जैसे ये बीमारी हवा से फैल रही है। और छत्तीसगढ़ के लड़ाके 0 मरीज के आंकड़े पर पहुंचने ही वाले हैं।

सोमवार 11 मई को छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमित 4 और मरीज ठीक हो गये हैं। उन्हें रायपुर के एम्स से छुट्‌टी दे दी गई है। इनमें 2 सूरजपुर और 2 कवर्धा से आये संक्रमित थे। सूबे में अब केवल 6 कोरोना पॉजिटिव केस ही रह गये हैं। पिछले 3 दिनों में 15 लोगों को एम्स से छुट्‌टी मिल चुकी है। सूबे में अभी तक कुल 59 कोरोना संक्रमित मिले हैं, इनमें से 53 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।
एम्स अधीक्षक करण पिपरे ने बताया – स्वस्थ हुये लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब उन्हें घर भेजने की तैयारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि डिस्चार्ज हुये लोग यहां से जाने के बाद होम क्वारैंटाइन में रहेंगे। डॉक्टरों की टीम लगातार इनके स्वास्थ्य की जानकारी लेती रहेगी। उन्होंने बताया कि बाकी बचे 6 मरीजों की हालत अभी स्थिर है। बहुत ही जल्द ये स्वस्थ भी हो जायेंगे।
छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के अब तक 59 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें सबसे ज्यादा कोरबा जिले से 28, सूरजपुर 6, रायपुर 7, दुर्ग 9, कवर्धा 6, राजनांदगांव और बिलासपुर से एक-एक पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। प्रदेश में अब एक्टिव केस की संख्या 6 है। अब सूरजपुर के 1, दुर्ग के 2, कवर्धा के 2 और रायपुर के एक मरीज का इलाज एम्स में चल रहा है।

हालात सामान्य होने के बाद छत्तीसगढ़ के बाजार खोल दिये गये हैं। शर्तों के साथ यहां के स्थानीय निवासियों को कई तरह की सहूलियतें दी गई हैं। करीब 50 दिन के बंद के बाद राजधानी में हार्डवेयर, पेंट, सेनेटरी, मार्बल, टाइल्स, सीमेंट, लोहा, जूता, कपड़े की दुकानें सोमवार और गुरुवार को दो दिन खुलेंगी। पहली बार किराना दुकानों पर बंदिश लगा दी गई है। किराना दुकानें अब हफ्ते में तीन दिन सोमवार, बुध और शुक्रवार को खुलेंगी। बाकी दिनों में किराना दुकानें बंद रहेंगी। जरूरी सेवाएं दवा, दूध, अस्पताल, सब्जी, फल, डेयरी, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी हफ्ते में सातों दिन संचालित होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 1 = 1