ट्रंप बोले – 2020 के अंत तक महान भारतीय वेज्ञानिकों के साथ मिलकर बना लेंगे कोरोना का टीका

New Delhi : भारतीय-अमेरिकी वैज्ञानिकों को महान बताते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि भारत और अमेरिका साथ मिलकर कोरोना वायरस का वैक्सीन विकसित करने में जुटे हुए हैं। ट्रंप ने कहा कि इस साल के अंत तक कोरोना वायरस का वैक्सीन विकसित होने की संभावना है।

ट्रंप ने कहा – मैं कुछ ही समय पहले भारत से लौटा हूं और हम भारत के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। अमेरिका में भारतीय बहुत बड़ी संख्या में हैं और उनमे से कई लोग वैक्सीन विकसित करने में जुटे हुए हैं। बेहतरीन वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता हैं वे। ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना बहुत अच्छा मित्र बताया।
इस बीच समाचार एजेंसी एपी की खबर के अनुसार अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को उम्मीद जताई कि इस साल के अंत तक या उससे कुछ समय बाद कोरोना वायरस का वैक्सीन बाजार में उपलब्ध हो सकता है। ट्रंप की ओर से वायरस के मामलों के लिए प्रशासन में नियुक्त किये गये एक पूर्व दवा कार्यकारी मोनसेप स्लोई ने कहा कि हमारा प्रयास वर्ष 2020 के अंत तक वैक्सीन तैयार करने का है। रोज गार्डन के एक कार्यक्रम में ट्रंप ने कहा कि वह राज्यों को आर्थिक गतिविधियों को दोबारा शुरू करने के साथ ही इसे आगे बढ़ते हुए देखना चाहते हैं।

भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवाई अमेरिका भेजने के लिए निर्यात पर लगे बैन को हटाया था। संकट के वक्त भारत की तरफ से की गई इस मदद का अमेरिका कायल तो हुआ ही था और अब उसने भी बदले में मदद का फैसला किया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया-मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि अमेरिका हमारे दोस्त भारत को वेंटिलेटर दान करेगा। हम इस महामारी के वक्त भारत और पीएम नरेंद्र मोदी के साथ खड़े हैं। हम वैक्सीन बनाने में भी सहयोग कर रहे हैं। हम साथ मिलकर इस अदृश्य दुश्मन से लड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

82 + = 91