शबाना आजमी ने शेयर की पाकिस्तानी बच्चों की पुरानी तस्वीर, लिखा- Heartbreaking

New Delhi : बॉलीवुड एक्ट्रेस शबाना आजमी ने मंगलवार 19 मई की रात सोशल मीडिया पर एक तस्वीर पोस्ट करते हुए दुख जाहिर किया। इस तस्वीर में बच्चों की बदहाली नजर आ रही थी। उन्होंने लिखा – हर्टब्रेकिंग। पर सोशल मीडिया यूजर्स को उनका यह दुख फर्जी नजर आया। सबने यह पता भी कर लिया कि फोटो भारत की नहीं बल्कि पाकिस्तान की है। फिर क्या था। देखते ही देखते सोशल मीडिया पर शबाना की लानत मलामत की बाढ़ आ गई।

ध्यान देने वाली बात यह है कि वह तस्वीर लगभग एक साल पुरानी है और भारत की नहीं है। शबाना आजमी ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- Heartbreaking.. जिसके तुरंत बाद ही लोगों ने प्रतिक्रिया देनी शुरु कर दी और बताया कि यह तस्वीर लगभग एक साल पुरानी है। यह तस्वीर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर पाकिस्तान की हालत पर हमलों के लिए इस्तेमाल हई थी।

जाहिर तौर पर लोग शबाना आजमी से काफी नाराज हैं और उनपर फेक न्यूज फैलाने का आरोप लगा रहे हैं। लोगों का कहना है कि एक साल पुरानी तस्वीर डालकर शबाना आजमी आज क्यों सहानुभूति जता रही हैं। आज जबकि भारत में दिहाड़ी मजदूर इतने संकट से गुजर रहे हैं, ऐसे में ये झूठी तस्वीरें फैलाना कहां तक सही है।

लॉकडाउन के दौरान हजारों मील पैदल चलकर जाने वाले कामगारों की दर्दनाक तस्वीरें आजकल सोशल मीडिया पर छाई रहती हैं। लोग प्रतिक्रिया देते रहते हैं। ऐसे में शबाना आजमी ने इस तस्वीर के साथ प्रतिक्रिया दी, जो कि एक साल पुरानी है। एक साल, चार महीने, 18 दिन एक यूजर ने लिखा- मैम आप कुछ ज्यादा ही लेट हो गईं। बताया कि यह तस्वीर पाकिस्तान की है। यूजर ने लिखा है, आपने यह तस्वीर ऐसे शेयर की है, जैसे आपने ली हो। क्या आप अशांति फैलाने के लिए पुरानी तस्वीर शेयर कर रही हैं।

एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि.. सभी पुरानी और दूसरे देशों की तस्वीरों के साथ मजदूरों के प्रति झूठी सहानुभूति दिखा रहे हैं। आपने मदद की? लोगों ने शबाना आजमी से कहा कि मुंबई के झुग्गियों में जाकर देंखे, वहां ज्यादा दिल तोड़ने वाले दृश्य दिखेंगे। आपने गरीबों के लिए क्या किया? फेक न्यूज वहीं, एक यूजर ने शबाना आजमी को फेक न्यूज फैलाने के लिए चेताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 1 = 8