दुबई में फंसे एक बिजनेसमैन का ऑफर : मेरी पत्नी और बच्चों से मिला दो, 10 लाख रुपये दूंगा

New Delhi : केरल के रहने वाले यूएई के एक बिजनेस मैन ने लॉकडाउन में फंसे अपने बच्चों और पत्नी से मिलानेवाले के लिये एक शानदार ऑफर किया है। यह ऑफर उसने अपने फेसबुक अकाउंट पर की है। 12 मई तक यह ऑफर प्रभावी है। इसके बाद ऑफर समाप्त। बिजनेस मैन ने खुद यह पोस्ट किया है। बिजनेसमैन यूएई में केमिकल के कारोबार से जुडे़ हुये हैं। लॉकडाउन में अपनी पत्नी को बच्चों से मिलाने के लिये उन्होंने एकबार हेलीकॉप्टर की मदद लेनी चाहिये। लेकिन आथेरिटी ने उनको परमिशन नहीं दी।
यूएई में रासायनिक व्यवसाय करने वाले केआर श्रीकुमार उन्हें एयरलिफ्ट करने के लिए एक हेलिकॉप्टर किराये पर ले रहे थे। एक विमानन कंपनी के साथ लगभग 10 लाख का सौदा तय कर चुके थे। लेकिन अधिकारियों ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अपने सभी प्रयासों के बाद भी वे असफल रहे तो उन्होंने 5 मई को फेसबुक पर एक असामान्य घोषणा पोस्ट की। उन्होंने लिखा – जो व्यक्ति मेरे परिवार को केरल वापस लाने में मदद करेगा, वह 10 लाख रुपये के इनाम का दावेदार होगा। यह प्रस्ताव 12 मई की आधी रात तक ही प्रभावी है। उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि बच्चों को उनकी पत्नी से गवर्मेंट परमिशन से ही मिलवाया जाये। कोई अनुचित माध्यम नहीं चलेगा।

लॉकडाउन में कनॉट पैलेस का नजारा

उन्होंने लिखा – मेरा बड़ा बेटा तमिलनाडु में तिरुचिरापल्ली में सीए की पढ़ाई कर रहा है और पत्नी और सबसे छोटा बेटा कर्नाटक के मंगलुरु में है। मैं चाहता हूं कि वे केरल में अलाप्पुझा में मेरे घर में एक साथ रहें। मैंने अपनी पूरी कोशिश की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। अगर कोई भी सुरक्षित रूप से उन्हें वापस ला सकता है तो मैं 10 लाख देने को तैयार हूं। उन्होंने कहा कि उनके बड़े बेटे ने तिरुचिरापल्ली से 15,000 रुपये का भुगतान करने के बाद कैब बुक करने की कोशिश की, लेकिन कार कभी नहीं चली और पैसे व्यर्थ गये।

उन्होंने कहा कि मैंने केरल और तमिलनाडु दोनों में कई सरकारी अधिकारियों और राजनेताओं से बात की। सभी ने मदद का वादा किया लेकिन कुछ भी नहीं किया। उन्होंने कहा – मैंने अपनी सोशल मीडिया वॉल में प्रस्ताव रखा। पोस्ट के बाद कई शुभचिंतकों और दोस्तों ने उन्हें फोन किया। यह कोई पब्लिसिटी स्टंट नहीं था, बल्कि अपने परिवार के सदस्यों को मिलाने के लिए एक हताश पिता की कोशिश थी।
भारत में 17 मई तक लॉकडाउन जारी है। लॉकडाउन के तीसरे चरण का पहला सप्ताह समाप्त होने को है, मगर कोरोना के मामलों में अभी संतोषजनक कमी नहीं देखी जा रही है। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3320 नये मामले सामने आये हैं और 95 लोगों की मौत हुई है। शनिवार को जारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देशभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर करीब साठ हजार यानी 59662 हो गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 3 = 6