CM योगी एकाएक पहुंचे इमर्जेंसी, मरीजों से खुद जाना हाल, कहा- कोरोना कंट्रोल में आ जायेगा कुछ दिनों में

New Delhi : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार 27 मई की सुबह लखनऊ स्थित डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड का निरीक्षण किया और मरीजों से हालचाल पूछा। सीएम ने इमरजेंसी वार्ड में स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया साथ ही अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल भी जाना। इस दौरान उनके साथ यूपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना चिकित्सा मौजूद रहे। सीएम ने कहा- इमरजेंसी वार्ड में मरीजों की भीड़ को व्यवस्थित करना चाहिये जिससे मरीजों के इलाज में कोई दिक्कत न हो। इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टरों की उपलब्धता सुनिश्चित करिये। उन्होंने इमरजेंसी में डॉक्टर बढ़ाने के लिये भी कहा।

 

इधर अपने आवास पर सीएम ने कोविड-19 डायग्नोस्टिक टूल लांच किया। इसके तहत एक्स-रे चेस्ट इमेजेज़ की कोविड-19 आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड प्री-स्क्रीनिंग की जाती है, जिससे मरीज में इस संक्रमण का पता लगाया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा – स्वास्थ्य संबंधी चुनौतियों से निपटने के लिए नए शोध की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण सम्पूर्ण विश्व के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों के दृष्टिगत तकनीकी और मेडिकल संस्थानों के लिए यह अवसर है कि वे ऐसी डिवाइसेज़ विकसित करें, जो रोगों की पहचान व उपचार में मददगार साबित हों। यह डिवाइस कोरोना से लड़ने में सहायक साबित हो सकती है। यह एक अच्छा प्रयास है। उन्होंने प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य और प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा को विभिन्न अस्पतालों में मरीजों के चेस्ट के डिजिटल एक्स-रे इस टूल में उपयोग के लिए शोधकर्ताओं को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस पर आधारित यह टूल डा. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी, किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, गवर्नमेण्ट मेडिकल कालेज, कोटा राजस्थान और उत्तर प्रदेश यूनिवर्सिटी आफ मेडिकल साइंसेज़ सैफई इटावा के संयुक्त प्रयासों से विकसित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

85 − = 75